भाजपा-कांग्रेस में कड़ी टक्कर

रिकांगपिओ—किन्नौर फेडरेशन की सरदारी हथियाने को लेकर एक बार फिर किन्नौर कांग्रेस व भाजपा आमने-सामने खड़ी हो गई है। बता दंे कि छह एलेक्टिड डायरेक्टरों वाले किन्नौर फेडरेशन के चेयरमैन व वाइस चेयरमैन का चुनाव शुक्रवार को संघ कार्यालय टापरी में होना है। चेयरमैन पद हथियाने को लेकर दिनों प्रमुख पार्टियों के बीच तलवारंे खींच गईं है। इसी कड़ी को लेकर गुरुवार को किन्नौर के विधायक जगत सिंह नेगी ने रिकांगपिओ में पत्रकार वार्ता कर कहा कि किन्नौर फेडरेशन में छह एलेक्टिड डायरेक्टरों समेत छह नोमिनेटिड डायरेक्टरों के पद नियम अनुसार स्वीकृत हैं। इनमंे सभी छह एलेक्टिड डायरेक्टर कांग्रेस समर्थित हंै। कांग्रेस समर्थित डायरेक्टरों में से चेयरमैन व वाइस चेयरमैन बनता देख भाजपा नेताओं ने संबंधित अधिकारियों पर दबाव बनाकर तीन और नोमिनेटिड डायरेक्टरों की नियुक्ति कर दी है, जो कि नियम कायदे कानूनों के अनुसार गलत है। उन्होंने कहा कि भाजपा शासन में इस तरह लोकतंत्र की हत्या की जा रही है। कानूनों की धज्जियां उड़ाई जा रही हंै। अधिकारियों पर दबाव बनाकर निगम व बोर्डो के प्रमुख पदों को हथियाने की कोशिश की जा रही है। उन्होंने बताया कि लोकतंत्र में भाजपा को इस तरह की मनमानी करने की खुली छूट नहीं दी जाएगी। इस विषय को लेकर शुक्रवार को किन्नौर कांग्रेस के सैकड़ों कार्यकर्ता टापरी में विरोध प्रदर्शन कर किन्नौर फेडरेशन के चेयरमैन व वाइस चेयरमैन पद  को जबरन हथियाने की खुली छूट भाजपा नेताओं को नहीं दी जाएगी। उन्होंने बताया कि जरूरत पड़ी, तो जिला व ब्लॉक स्तर पर  भी भाजपा सरकार के विरुद्ध धरना-प्रदर्शन शुरू किया  जाएगा।

You might also like