भीषण गर्मी ने जिला में तोड़ा कई वर्षों का रिकार्ड

नाहन—जिला मुख्यालय नाहन समेत जिला के मैदानी भागों में इस वर्ष भीषण गर्मी ने पिछले 10 वर्षों का रिकार्ड तोड़ दिया है। जिला मुख्यालय नाहन में इस वर्ष गर्मी में पारा 40 डिग्री पहुंचा है, जबकि जलवायु के लिए सम माने जाने वाले इस शहर में अधिकतम तापमान 30 से 35 डिग्री तक अधिकतम रहता आया है। मौसम विभाग ने भी इस वर्ष पूरे प्रदेश में अधिकतम तापमान में चार से पांच डिग्री पारा चढ़ना की गणना रिकार्ड की है। शनिवार को भी लगातार गर्मी का प्रकोप जिला मंे बना रहा। वहीं औद्योगिक नगरी कालाअंब और इसके साथ लगते क्षेत्रों में अधिकतम तापमान 42 डिग्री सेल्सियस रिकार्ड किया गया। इसके अलावा पांवटा साहिब में पारा 41 डिग्री के पार चला गया, वहीं ददाहू रेणुकाजी में अधिकतम तापमान 40 डिग्री के पार पहुंचा हुआ है। लगातार गर्मी का ग्राफ बढने से आम जनमानस के अलावा जीव-जंतु, जंगली आग, पेयजल स्कीमें, ग्राउंड वाटर पर व्यापक असर पड़ा है। भीषण गर्मी के बीच जंगली आग जहां तापमान को बढ़ावा दे रही है, वहीं पशु-पक्षी व जीव-जंतु भी आग के चलते पानी के लिए त्राही-त्राही कर रहे हैं। पानी के चश्मों और ग्रामीण जलस्रोतों के हालात यह हैं कि पानी की मात्रा स्त्रोतों मंे 90 प्रतिशत कम हो गई है। आईपीएच विभाग ने कई स्थानों पर वितरण मंे वाटर राशनिंग को शुरू किया हुआ है। उधर गर्मी के बढ़ते हुए पारे के बीच स्कूली विद्यार्थियों को हो रही परेशानी के लिए उपनिदेशक उच्च शिक्षा के पास अभी तक पांवटा उपमंडल से दो स्कूलों के आवेदन छुट्टियों के लिए आए हैं, वहीं यदि अन्य स्थानों से भी गमी मंे खराब हालात होने के आवेदन आए तो छुट्टियों का शैड्यूल जारी किया जा सकता है। गर्मी के इस मौसम में बाजार ठंडे पेय पदार्थों से भरे हैं। वहीं लोग गन्ने, आइसक्रीम, कोल्ड ड्रिंक्स की दुकानों में कतारबद्ध होकर इन उत्पादों को लेने के लिए खड़े नजर आ रहे हैं। मौसम विभाग ने जिला के आइसोलेटिड एरिया में हीट वेव की संभावना की भी भविष्यवाणी की है। वहीं शनिवार को लू का असर जिला के मैदानी भागों में दिखा। उधर स्वास्थ्य विभाग ने हीट स्ट्रॉक से बचने के लिए लोगों को सलाह देते हुए कहा है कि सन ग्लासेस के साथ दिन मंे धूप मंे निकलने से बचा जाए। वहीं पानी का अधिक सेवन करें। मौसम विभाग के निदेशक डा. मनमोहन शर्मा ने बताया कि प्रदेश के अलावा जिला सिरमौर में भी चार से पांच डिग्री सामान्य से अधिक अधिकतम तापमान चला हुआ है। वहीं हीट वेव की संभावनाएं हैं। हालांकि आगामी 24 घंटों के बाद मौसम में बदलाव के भी संकेत दिए गए हैं, मगर इस वर्ष गर्मी ने कई वर्षों के रिकार्ड तोड़ दिए हैं। वहीं आम जनजीवन बढ़ती गर्मी से मैदान से लेकर पहाड़ तक प्रभावित हुआ है।

You might also like