भुवनेश्वर तीन मैचों से बाहर

ओपनर शिखर धवन के बाद टीम इंडिया के प्रमुख तेज गेंदबाज चोटिल

मैनचेस्टर -ओपनर शिखर धवन की चोट से परेशान चल रही भारतीय टीम को तेज गेंदबाज भुवनेश्वर कुमार के बाएं पैर के हैमस्ट्रिंग चोट के कारण अगले 2-3 मैचों से बाहर हो जाने से गहरा झटका लगा है।  भुवनेश्वर को पाकिस्तान के खिलाफ रविवार को विश्व कप मुकाबले में गेंदबाजी करते हुए हैमस्ट्रिंग चोट आई थी, जिसके बाद वह शेष मैच से बाहर हो गए थे। भारतीय कप्तान विराट कोहली ने भुवनेश्वर की चोट को हालांकि हल्का बताया है, लेकिन साथ ही कहा है कि वह 22 जून को अफगानिस्तान के खिलाफ और 27 जून को वेस्टइंडीज के खिलाफ मैच के लिए उपलब्ध नहीं हो पाएंगे और संभवतः 30 जून को इंग्लैंड के खिलाफ मैच से भी बाहर रह सकते हैं। भुवनेश्वर अपने तीसरे ओवर के बीच में अपनी मांसपेशियां खिंचा बैठे और उन्हें लड़खड़ाते हुए मैदान से बाहर जाना पड़ा। भुवनेश्वर के ओवर की बची दो गेंद अपना पहला विश्व कप मैच डाल रहे आलराउंडर विजय शंकर ने डाली और उन्होंने अपनी पहली ही गेंद पर विकेट ले लिया। शंकर ने इमाम उल ह़क को सात रन पर पगबाधा कर दिया। भुवनेश्वर के मैदान से बाहर जाने के बाद भुवनेश्वर को टीम फिजियो पैट्रिक फहार्ट ने देखा। भारतीय टीम प्रबंधन की तरफ से बताया गया था कि भुवनेश्वर की बाईं हैमस्ट्रिंग में जकड़न है और वह मैच के शेष हिस्से में हिस्सा नहीं ले पाएंगे। भारत को यह दूसरा झटका लगा है। इससे पहले बाएं हाथ के ओपनर शिखर धवन अपने अंगूठे में फ्रैक्चर के कारण अगले 10-12 दिन के लिए मैदान से बाहर हो गए हैं और शिखर को लेकर टीम प्रबंधन ने अभी फैसला लेना है।

कोहली एंड कंपनी सबसे बेस्ट

मैनचेस्टर। वर्ल्डकप मुकाबले में रविवार को हार के बाद पाकिस्तान के कप्तान सरफराज अहमद ने भारत की मौजूदा टीम को बेहतर बताया। सरफराज ने कहा कि जो टीम दबाव को झेल लेती है, वही मैच जीतती है। 90 के दशक की पाक टीम इसमें भारत से आगे थी, लेकिन अब भारतीय टीम हमसे बेहतर है। सरफराज ने प्रेस कान्फ्रेंस में कहा कि हमारी टीम ने तीनों डिपार्टमेंट में खराब प्रदर्शन किया। यही हार की वजह रही। सरफराज ने पहले बल्लेबाजी चुनने के फैसले का बचाव करते हुए कहा कि टॉस जीतने के बाद विराट ने भी कहा था कि वे फील्डिंग ही चुनते। हमने दो दिन से पिच नहीं देखी थी।

You might also like