भोरंज के महकमों में स्टाफ की कमी

भोरंज—उपमंडल भोरंज में कई अधिकारियों के पद अरसे से खाली चल रहे हैं। इस वजह से लोगों के काम प्रभावित हो रहे हैं। इन अधिकारियों के खाली पदों का दूसरी तहसीलों के अधिकारी अतिरिक्त कार्यभार देख रहे हैं। भोरंज से तहसील कल्याण अधिकारी का तबादला करीब तीन माह पहले हो चुका है, लेकिन इस पद पर अभी तक किसी ने ज्वाइन नहीं किया है। अतिरिक्त कार्यभार का जिम्मा टीडब्ल्यूओ सुजानपुर को सौंपा है। एसडीओ आईपीएच का तबादला भी आचार संहिता के दौरान करीब दो माह पहले हो गया था, लेकिन अभी तक किसी ने यहां स्थायी तौर पर ज्वाइन नहीं किया है। गर्मियों का मौसम अपने पूरे यौवन पर है। जगह-जगह लोग पेयजल समस्या से दो-चार होने लगे हैं, लेकिन एसडीओ के पद पर हमीरपुर से एसडीओ ड्यूल चार्ज देख रहे हैं। पीडब्ल्यूडी के एसडीओ का पद भी पिछले कई दिनों से खाली चल रहा है। लोगों में पंचायत प्रधान जाहु राजू, मुंडखर प्रधान प्रकाश चंद, भलवाणी के प्रधान संजीव आंगरिया, बाहन्वीं के उपप्रधान राकेश कुमार, धमरोल पंचायत प्रधान विजय कुमार कड़ोहता, संतोष धीमान, उपप्रधान वीरेंद्र डोगरा, भौंखर प्रधान रणजीत सिंह, झरलोग प्रधान नरेश ठाकुर, उपप्रधान प्रकाश राणा, खरबाड़ प्रधान मदन कौशल, पूर्व प्रधान पपलाह धर्मदास, कक्कड़ पंचायत के उपप्रधान जय सिंह व ग्रामीण जगदीश चंद, कश्मीर चंद, वीरी सिंह, रमेश चंद, सम्मी, सलोचना देवी, तृश्ला, सुनीता देवी, सुशीला देवी, सरोज कुमारी, केहर सिंह, विपिन कुमार, बवीता कुमारी, दीना नाथ, वंशी राम, ज्ञान चंद, दुनी चंद, धनी राम, मीरां देवी, रीना देवी, रक्षा देवी, चंद्र रेखा, कमला देवी, पिंकी देवी, पूर्व प्रधान एवं महिला मंडल अध्यक्ष खरबाड़ जमना देवी, उपप्रधान जसवीर कौर, रसील सिंह, रूलिया राम, चंपा देवी, रोशन लाल, रेशमा देवी, कौशल्या देवी व कमला ने मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर, विधायक कमलेश कुमारी व सांसद अनुराग ठाकुर से मांग की है कि भोरंज में खाली चल रहे पदों को शीघ्र भरा जाए, ताकि लोगों को असुविधा न हो।

You might also like