मंडलीय प्रबंधक की जल्द हो गिरफ्तारी

ऊना—भ्रष्टाचार और धोखाधड़ी के गंभीर आरोपों में ऊना के सदर पुलिस थाने में जिस मंडलीय प्रबंधक के खिलाफ  धारा-420 में केस दर्ज हुआ है उसे पुलिस तुरंत गिरफ्तार करें। यह मांग परिवहन मजदूर संघ के प्रदेश अध्यक्ष शंकर सिंह ठाकुर सहित अन्य वरिष्ठ नेताओं रणजीत सिंह, सुनील कटोच, प्रताप ठाकुर, सतीश नड्डा, पवन ठाकुर, राम कुमार, चमन ठाकुर, शमशेर सिंह, अजय कुमार, कैलाश चंद, संदीप शर्मा, संतोष कुमार, जगत पाल ने रविवार को जारी एक संयुक्त वक्तव्य में कहा कि हिमाचल पथ परिवहन निगम को एक सशक्त, मुखर व ईमानदार प्रशासन की जरूरत है न कि धोखाधड़ी और भ्रष्टाचार के गंभीर आरोपों से घिरे हुए ऐसे जुगाड़बाज अधिकारियों की। उन्होंने कहा कि पूर्व कांग्रेस सरकार के कार्यकाल में जिनके कंधों पर एचआरटीसी को सुचारू रूप से चलाने और समृद्ध बनाने की जिम्मेदारी थी। इसमें धोखाधड़ी और भ्रष्टाचार के कीर्तिमान स्थापित करने वाले वही लोग निकले। संघ के प्रदेश अध्यक्ष शंकर सिंह ठाकुर ने कहा कि एचआरटीसी में भ्रष्टाचार के टुकड़ों पर पलने वाले ऐसे अधिकारियों को पूरा प्रदेश नफरत की निगाहों से देख रहा है। पूर्व कांग्रेस सरकार के कार्यकाल में मिल बांट कर खाने पीने और मौज उड़ाने ऐसे भ्रष्ट अधिकारियों ने एचआरटीसी को भ्रष्टाचार की मंडी बना कर रख दिया था। प्रदेश में सत्ता परिवर्तन के बाद हुई विभागीय जांच में सरकार ने 10 अगस्त 2018 को इस अधिकारी को निलंबित कर केस दर्ज कराने के लिखित आदेश हुए थे। कुछ समय बाद जुगाड़बाजी के इस माहिर कलाकार को बहाल कर मुख्य कार्यालय शिमला में लगा दिया गया। जहां पर इस के द्वारा रिकार्ड से छेड़छाड़ करने की गहरी अशंका बनी हुई है। अतः पुलिस धारा 420 के संगीन आरोपी मंडलीय प्रबंधक को तुरंत गिरफ्तार करे।

You might also like