मंडी के शिक्षण संस्थानों में अग्नि सुरक्षा रामभरोसे

मंडी—जिलाभर में संचालित अधिकांश शिक्षण संस्थानों की अग्नि सुरक्षा रामभरोसे है। जिला के कुछ संस्थानों में अग्नि सुरक्षा को लेकर कोई व्यवस्था नहीं की है। हालांकि शिक्षा विभाग ने गत सप्ताह संस्थानों को व्यवस्था करने के निर्देश दिए थे, लेकिन अभी तक निर्देशों की अवहेलना की जा रही है। विभाग ने निर्देश दिए है कि अग्नि सुरक्षा के लिए जल्द पुख्ता प्रबंध करें। ताकि किसी प्रकार की अनहोनी पर तुरंत निपटा जा सके। लापरवाही पर संबंधित संस्थान के प्रबंधन उत्तरदायी होंगे। विभाग जल्द ही संस्थानों में अग्नि सुरक्षा को लेकर निरीक्षण भी करेगा।  जिला के कुछ शिक्षण संस्थानों में अग्नि सुरक्षा के लिए कोई खास प्रबंध नहीं हैं, जबकि कुछ संस्थान में लगे अग्निशमन यंत्रों की एक्सपायरी डेट खत्म हो चुकी है। कुछ संस्थानों से अग्निशमन यंत्र गायब हैं। इसके चलते बच्चों की सुरक्षा को देखते हुए विभाग ने कोचिंग, ट्यूशन केंद्रों व शिक्षण संस्थानों को जल्द अग्नि सुरक्षा के पुख्ता प्रबंध करने को कहा है। बता दें कि गुजरात के सूरत में पेश आई घटना में करीब 21 विद्यार्थियों की जान चली गई। उक्त संस्थान में स्टूडेंट्स ट्रेनिंग कर रहे थे। विभाग ने बच्चों की सुरक्षा को लेकर  मंडी जिला में भी ट्यूशन व कोचिंग केंद्रों में अग्नि सुरक्षा के प्रबंध करने के निर्देश जारी किए हैं। इस बारे में उपनिदेशक उच्च शिक्षा विभाग अशोक शर्मा ने बताया कि अग्नि सुरक्षा को लेकर कोचिंग व ट्यूशन केंद्र उचित प्रबंध करें, अनहोनी होने पर संबंधित केंद्र ही उत्तरदायी होगा।

You might also like