मंडी में जुटे 16 राज्यों के मजदूर प्रतिनिधि

मंडी—छोटी काशी मंडी के विवेकानंद छात्रावास बाड़ीगुमाणु में अखिल भारतीय कंस्ट्रक्शन मजदूर महासंघ की दो दिवसीय 29वीं राष्ट्रीय कार्यसमिति की बैठक का शुभारंभ भारतीय मजदूर संघ के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष व महासंघ के प्रभारी जयंती लाल ने दीप प्रज्वलित कर किया। कार्यसमिति की बैठक में 16 राज्यों के 32 प्रतिनिधि भाग ले रहे हैं। अखिल भारतीय कंस्ट्रक्शन मजदूर महासंघ के पदाधिकारियों को संबोधित करते हुए भारतीय मजदूर संघ के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष एवं भारतीय कंस्ट्रक्शन मजदूर महासंघ के राष्ट्रीय प्रभारी जयंती लाल ने कहा कि भारतीय मजदूर संघ का सपना विकसित राष्ट्र का निर्माण करना है। भारतीय मजदूर संघ विश्व का सबसे बड़ा संगठन है तथा इसकी अनेक इकाईयां हैं। इस इकाई में अखिल भारतीय कंस्ट्रक्शन मजदूर महासंघ आता है। देश में जो भी निर्माण कार्य होता है, उसे कंस्ट्रक्शन मजदूर ही पूरा करता है। उन्होंने कहा कि श्रम कानूनों के तहत सरकार ने अब मजदूरों का भविष्य सुरक्षित करने व उनके परिवारों का बेहतर तरीके से पोषण हो तथा कोई भी उनका शोषण न कर सके, इसके लिए काम किया है। सरकार ने मजदूरों को अब पेंशन का प्रावधान भी किया है। भारतीय कंस्ट्रक्शन मजदूर महासंघ में सदस्यता अभियान चल रहा है तथा इसमें वे तमाम लोग सदस्य होंगे, जो निर्माण कार्य में लगे हुए हैं। भारतीय मजदूर संघ ने अनेक बड़े आंदोलन करके मजदूरों के हितों की रक्षा करने के लिए काम किया है। इस दो दिवसीय कार्यसमिति में अनेक प्रस्ताव पारित किए जाएंगे तथा कामगारों की जो ज्वलंत समस्याएं हैं, उनका पूरा ड्राफ्ट तैयार कर केंद्र सरकार व राज्य सरकारों को सौंपा जाएगा। 16 प्रांतों से आए तमाम राज्य अध्यक्षों द्वारा इस ड्राफ्ट के तहत अपने राज्य के मुख्यमंत्रियों को इसकी कॉपियां प्रदान की जाएंगी। इस अवसर पर अखिल भारतीय कंस्ट्रक्शन मजदूर महासंघ(बीएमएस) के राष्ट्रीय अध्यक्ष सीटी पाटिल, महामंत्री जयंत देशपांडे, राष्ट्रीय सदस्य प्रभुनाथ सिंह, हिमाचल प्रभारी अशोक पराशर और बीएमएस के जिला अध्यक्ष हेमराज ठाकुर भी उपस्थित थे।

You might also like