मनरेगा के 36 करोड़ के सेल्फ अनुमोदित

मिनी सचिवालय में पंचायत समिति की त्रैमासिक बैठक में आगामी कार्रवाई के लिए किया पारित

भरमौर -जनजातीय क्षेत्र भरमौर उपमंडल के मुख्यालय मिनी सचिवालय में पंचायत समिति की त्रैमासिक बैठक का आयोजन किया गया। जिसकी अध्यक्षता पंचायत समिति की अध्यक्षा नीलम ठाकुर ने की। पंचायत समिति की त्रैमासिक बैठक में वित्तीय वर्ष 2019-20 के लिए विभिन्न विकासात्मक कार्यों का मनरेगा का 36 करोड़ सेल्फ अनुमोदित किया गया, जिसे सर्वसम्मति से सदन की बैठक में आगामी कार्रवाई हेतु पारित किया गया। बैठक में अतिरिक्त जिला दंडाधिकारी भरमौर पीपी सिंह विशेष तौर से मौजूद रहे। उन्होंने विभिन्न विभागीय अधिकारियों व प्रतिनिधियों को संबोधित करते हुए कहा कि तीन स्तरीय पंचायती राज प्रणाली में पंचायत समिति का अपना अलग से महत्त्व है, इसकी बैठकों में जनहित से जुड़े मुद्दों को उजागर करें ताकि आम जनमानस को प्रदेश सरकार की कल्याणकारी योजनाओं का अधिक से अधिक लाभ मिल सके। उन्होंने फील्ड अधिकारियों व कर्मचारियों से आग्रह किया कि  वे अपने क्षेत्रों में ड्यूटी का निर्वहन बखूबी से करें। बैठक में पंचायत समिति की आय और व्यय पर भी चर्चा की गई।बजोल पंचायत में बिजली की समस्या पर सदन का ध्यान आकर्षित करते हुए समिति सदस्य सोहनलाल ने कहा  कि जल्द इस समस्या से निजात दिलाई जाए इस पर अतिरिक्त जिला दंडाधिकारी ने विभाग के एसडीओ को तुरंत बिजली बहाल करने के निर्देश जारी किए। उन्होंने कहा की तरेला के लिए बस सेवा शुरू की जा रही है। खणी खड़ामुख पैदल मार्ग को भी बहाल किया जा रहा है  एडीएम भरमौर ने कहा कि ददवा से पट्टी तक चरणबद्ध तरीके से एलइडी स्ट्रीट लाइट लगवाई जा रहे हैं। इसके अतिरिक्त विभिन्न पंचायतों के पंचायत समितियों के सदस्यों की मांगों पर भी एडीएम ने जल्द कार्रवाई करने का आश्वासन दिया। बैठक में विभिन्न विभागों के अधिकारियों व कर्मचारियों  सहित पंचायत समिति के उपाध्यक्ष अरुण कुमार, पंचायत समिति सदस्य होली कुठेड अनूप कुमार, डुमना राम, सोहनलाल, दुनी चंद प्रधान, ऋतु, सपना, प्रवीणा देवी, रत्ना देवी, आरती  शीला, अंजूबाला, अनूप, रोहित कुमार, नरेंद्र, नीमा देवी, तृप्ता व कुंजलाल भी मौजूद रहे।

You might also like