माउंटेन डिजास्टर मैनेजमेंट पर ट्रेंनिग प्रोग्राम

चितकारा यूनिवर्सिटी में समर स्कूल ट्रेंनिग का आयोजन, नामी वैज्ञानिक व शिक्षाविद बने कार्यक्रम का हिस्सा

बीबीएन-चितकारा यूनिवर्सिटी हिमाचल प्रदेश दवारा माउंटेन डिजास्टर मैनेजमेंट विषय पर 21 दिवसीय समर स्कूल ट्रेंनिग प्रोग्राम का आयोजन किया गया,जिसमें विभिन्न प्रतिष्ठित संस्थानों से वैज्ञानिक व शिक्षाविदों ने हिस्सा लिया। यूनिवर्सिटी के सिविल इंजीनियरिंग के भू-स्खलन विभाग ने जियोस्पेशियल टेक्नोलॉजी – माउंटेन डिजास्टर मैनेजमेंट (भू-स्खलन) विषय  पर आयोजित इस कार्यशाला का नौ मई से 29 मई 2019 तक आयोजन किया। इस ट्रेंनिग प्रोगा्रम के दौरान प्रतिभागियों के ज्ञानवर्धन और मार्गदर्शन के लिए एनडीआरएस, राजीव गांधी राष्ट्रीय युवा विकास संस्थान,अन्नामलाई विश्वविद्यालय, एनएचपीसी लिमिटेड, आईआईटी रुड़की, आईआईटी धनबाद, एनआईटी श्रीनगर, कच्छ विश्वविद्यालय, शिवाजी विश्वविद्यालय, एनआईटी सुरथकल और चितकारा विश्वविद्यालय के शिक्षाविद बिशेष तौर पर मौजूद रहे। जानकारी के मुताबिक 21 दिवसीय समर स्कूल ट्रेंनिग प्रोगा्रम का विधिवत शुभारंभ  आईआईटी कानपुर से जनरल (डॉ) बी नागराजन ने किया। जबकि समापन समारोह में एनआरडीएमएस – डीएसटी नई दिल्ली के प्रमुा भूप सिंह, चितकारा यूनिवर्सिटी हिमाचल प्रदेश की प्रो चांसलर डॉ मधु चितकारा ने बतौर मुय अतिथि शिरकत की। इस बहुआयामी आयोजन के पहले सप्ताह में सर्वेक्षण, लेवलिंग, कॉन्टूरिंग, स्केल, डेटम एंडप्रोजेक्शन, जीएनएसएस, ग्लोबल पोजिशनिंग सिस्टम सरीखी मूल बातों पर विचार-विर्मश हुआ जबकि रीमोट सेंसिंग जीआईएस टेक्नोलॉजी, डिजिटल इमेज प्रोसेसिंग के फंडामेंटल जैसे प्रमुख विषय भी चर्चा की अहम कड़ी रहे। इस दौरान नेविगेशन प्रणाली, संरचना, त्रुटि के स्रोत, सटीकता बढ़ाने और इसके अनुप्रयोगों पर भी प्रतिभागियों के साथ चर्चा की गई।   कार्यशाला के दूसरे सप्ताह में पहाड़ी इलाके में  भू-स्खलन / ढलान अस्थिरता की समस्या के विस्तृत पहलुओं उनके परिणाम- जोखिम, संकेतक और चेतावनी पर मंथन हुआ ,जिसमें अनुभवी व्यक्तियों ने साइट-स्पेसिफिक लैंडस्लाइड स्टडीज, लैंडस्लाइड इन्वेस्टिगेशंस एंड मैपिंगटेक्नीक पर अपने विचार साझा किए। व्यावहारिक सत्र  गूगल अर्थ और इसके लैंडलस्टेस्टीज पर आधारित एप्लीकेशन पर किए गए । सभी

प्रतिभागियों को मिला ए ग्रेड

इस आयोजन के दौरान प्रतिभागियों को पांच समूहों में मिनी परियोजनाओं के लिए विभाजित किया गया था , जिसमें उत्कृष्ठ प्रर्दशन के चलते सभी प्रतिभागियों को ए ग्रेड दिया गया । चितकारा यूनिवर्सिटी हिमाचल प्रदेश के कुलपति डॉ वरिंदर एस कंवर,समर स्कूल के सह-समन्वयक  डा. सी प्रकाशम ने समापन समारोह के अवसर पर सभी अतिथियों व प्रतिभागियों का आाार जताया और यूनिवर्सिटी के विभिन्न कार्यक्रमों व उपलब्धियों की जानकारी दी।

डीजीपीएस और टोटल स्टेशन का दौरा

प्रतिभागियों ने लेब सेशन के दौरान ऑटो लेवलर, डीजीपीएस और टोटल स्टेशन चंडीगढ़ का दौरा किया। शिक्षाविदों व वैज्ञानिकों ने अपने व्यायान के दौरान  प्रतिभागियों  को रॉक क्लासिफिकेशन एंड टाईपस ऑफ फेलियर और ढलान स्थिरता विश्लेषण ,भूवैज्ञानिक जांच, प्रकार, मापदंडों, डेटाकोलेक्शन विधियों से अवगत कराया गया।

 

You might also like