मासूम की हत्या पर अलीगढ़ में आक्रोश, धारा 144 तोड़ने पर हिरासत में 5 लोग

अलीगढ़ के टप्पल में मासूम बच्ची का अपहरण कर उसकी हत्या के बाद लोगों आक्रोश फूट पड़ा है. लोग सड़कों पर उतर कर विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं और बच्ची के लिए इंसाफ की मांग कर रहे हैं. टप्पल में हालत कहीं बेकाबू न हो जाएं, इसे देखते हुए रविवार को दूसरे दिन भी सुरक्षा बलों ने फ्लैग मार्च किया. टप्पल में 30 मई को एक ढाई साल की बच्ची गायब हुई थी. 2 जून को उसका क्षत-विक्षत शव घर से 100 मीटर दूर मिला. बच्ची के पिता ने पहले ही दिन हत्या का शक मुहल्ले के जाहिद पर जताया था. ढाई साल की इस बच्ची को इंसाफ दिलाने के लिए पूरा देश उठ खड़ा हुआ है. कहीं कैंडल मार्च निकाला जा रहा है तो कहीं पुलता फूंका जा रहा है. कहीं लोग अनशन पर बैठे हैं तो कहीं प्रतीकात्मक फांसी लगाकर लोग अपना गुस्सा जाहिर कर रहे हैं. किसी को यकीन नहीं हो रहा है कि आखिर ढाई साल की मासूम बच्ची को कोई गला दबाकर मार कैसे सकता है. हर तरफ आक्रोश है, हर तरफ गुस्सा है. रौंगटे खड़े करने देने वाली वारदात के खिलाफ अलीगढ़ में हिंदू महासभा के लोग भी सड़कों पर उतरे और मुस्लिम समाज भी. अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी के छात्रों ने भी आरोपियों को सूली पर चढ़ाने की मांग की. मध्य प्रदेश के राजगढ़ में मुस्लिम समाज ने दरिंदों का पुतला फूंक कर अपना गुस्सा जताया. यूपी के लखीमपुर में लोग इंसाफ की मांग पर अन्न त्याग कर धरने पर बैठ गए. 

You might also like