मिनर्वा की अल्का ने पास की एम्स परीक्षा

घुमारवीं—मिनर्वा स्टडी सर्किल की छात्रा अल्का पुत्री विवेक गौतम ने एम्स-2019 की प्रवेश परीक्षा में 171 अखिल भारतीय रैंक प्राप्त किया है। इससे पहले भी अल्का ने इस वर्ष की नीट परीक्षा में 639 अंक और साथ ही इसी वर्ष की जेईई मेन्स में भी 99.28 प्राप्त किए हैं। यह मिनर्वा स्टडी सर्किल के लिए पहला मौका है। जब किसी विद्यार्थी ने भारत वर्ष में डाक्टर बनने के लिए सबसे कठिन प्रवेश परीक्षा पास की है। वहीं, संस्थान में एक ओर खुशी व उल्लास का महौल था, तो दूसरी ओर अल्का व उसके माता-पिता को बधाइयों का तांता लग गया। अल्का के पिता सरकारी स्कूल में भौतिक शास्त्र के प्रवक्ता हैं। जबकि माता मिनर्वा सीनियर सेकंेडरी स्कूल घुमारवीं में अध्यापिका हैं। अल्का ने नौवीं कक्षा से ही स्कूल समय से पहले व बाद में मिनर्वा स्टडी सर्किल में कोचिंग प्राप्त कर रही थी और उन्होंने कोचिंग जमा दो कक्षा तक जारी रखी। बीते वर्ष अल्का ने भारतीय विज्ञान संस्थान बंगलूरू द्वारा आयोजित किशोर वैज्ञानिक प्रोत्साहन योजना परीक्षा व राष्ट्रीय जीव विज्ञान ओलंपियाड परीक्षा भी पास की थी, परंतु अल्का का सपना तो अखिल भारतीय आयुर्वेदिक संस्थान (एम्स) से डाक्टरी की पढ़ाई कर अपना भविष्य संवारना था। कड़ी मेहनत व लग्न से अल्का ने इस मुकाम को हासिल किया है। इस मौके पर मिनर्वा स्टडी सर्किल के संयोजक परवेश चंदेल व सस्ंथान के मुख्य प्रबंधक राकेश चंदेल ने अल्का व माता-पिता को बधाई दी और संस्थान में कोचिंग प्राप्त कर रहे सभी विद्यार्थियों का आह्वान किया है कि वे भी अल्का की तरह ही अपना-अपना लक्ष्य निर्धारित कर लगातार उसकी तरफ बढ़ते रहेंगे, तो एक दिन वे अवश्य ही अपना लक्ष्य प्राप्त कर लेंगे। बता दें कि इस से पहले भी इसी वर्ष की जेईई मेन्स परीक्षा में मिनर्वा स्टडी सर्किल के 16 विद्यार्थी पास हुए हैं और सस्ंथान के 23 विद्यार्थी नीट परीक्षा की वरियता सूची में अपना नाम दर्ज करवा चुके हैं।

You might also like