‘मिस यूनिवर्स’ के लिए ऐश्वर्या को भेजना चाहते थे आर्गेनाइजर

सुष्मिता सेन 1994 में ‘मिस यूनिवर्स’ का खिताब जीतने वाली पहली भारतीय महिला हैं। सुष्मिता सेन ने इस खिताब को अपने नाम कर पूरे भारत को गौरवान्वित किया था। अब उन्होंने ‘मिस यूनिवर्स’ जीतने के दौरान का एक दिलचस्प किस्से को साझा किया है। उन्होंने बताया कि एक पल ऐसा आ गया था कि जब मुझे लगा कि ‘मिस यूनिवर्स’ बनने का मेरा सपना टूट जाएगा। सुष्मिता ने बताया, फिलीपींस में मिस यूनिवर्स कांटेस्ट के लिए जाने से पहले मेरा पासपोर्ट खो गया था। दरअसल, इवेंट की मैनेजर अनुपमा वर्मा से मेरा का पासपोर्ट खो गया था। सुष्मिता सेन ने बाताया, पासपोर्ट खोने की वजह से मैं बेहद निराश हो गई थीं। ऑर्गेनाइजर पूरी तरह से मददगार नहीं थे। जाहिर तौर पर वह ऐश्वर्या राय बच्चन को ‘मिस यूनिवर्स’ प्रतियोगिता में भाग लेने देना चाहते थे। मुझसे कहा गया कि पासपोर्ट इतनी जल्दी तैयार होना मुश्किल है। ‘मिस वर्ल्ड’ नवंबर में है। आप बाद में जाएं, तब तक हम आपका पासपोर्ट बनवा देंगे। सुष्मिता ने कहा, मैंने अपने पापा को इसके बारे में बताया।  पापा के सामने रोई और मैंने कहा, बाबा, मैं किसी और चीज के लिए नहीं जा रही हूं। मैं सही मायने में इसके लिए जाने के लायक हूं। इसके बाद पापा ने राजेश पायलट से बात की। उन्होंने मेरी मदद की। बता दें कि सुष्मिता ‘मिस यूनिवर्स’ और ऐश्वर्या ‘मिस वर्ल्ड’ बनी थीं।

You might also like