मूल स्थान को लौटी मां शूलिनी

सोलन—तीन दिनों तक अपनी बड़ी बहन मां दुर्गा के घर रुकी सोलन की अधिष्ठात्री मां शूलिनी रविवार देर शाम अपने मूल स्थान को लौट गई। मां शूलिनी की पालकी के लौटते ही राज्य स्तरीय मां शूलिनी मेला भी विधिवत संपन्न हो गया। शांतिपूर्वक संपन्न इस मेले में तीन दिनों तक न केवल प्रदेश बल्कि बाहरी राज्यों से आए लाखों लोगों ने शिरकत की और मां का आशीर्वाद प्राप्त किया। उल्लेखनीय है कि मां शूलिनी के पालकी में बैठ कर शहर भ्रमण पर निकलने और फिर अपनी बड़ी बहन के घर पहुंचने पर मेले की विधिवत शुरुआत होती है। इस दौरान मां शूलिनी तीन दिनों तक अपनी बहन के घर ही रुकती हैं, जहां भक्त उनके दर्शन के लिए पहुंचते हैं। गंज बाजार स्थित मंदिर में लोगों के दर्शनार्थ रखी गई मां शूलिनी के दर्शनों के लिए तीन दिनों ने लाखों श्रद्धालु पहुंचे। रविवार को भी सुबह चार बजे से ही मंदिर में कतारें लगनी आरंभ हो गई थी। मां के जयकारे लगाते हुए भक्तों ने मां का आशीर्वाद प्राप्त किया और मन्नतें मांगीं। वहीं कई लोगों ने अपनी मुरादें पूरी होने पर मां के दर पर शीश नवाया।

You might also like