मेडिकल भत्ता एक हजार रुपए देने की मांग

सिहुंता—पेंशनर वेलफेयर एसोसिएशन की सिहंुता खंड इकाई की बैठक का आयोजन सोमवार को लोक निर्माण विभाग के विश्राम गृह परिसर में किया गया। बैठक की अध्यक्षता खंड इकाई के प्रधान बीएम शेख ने की। बैठक में पेंशनरों के अलावा जनहित से जुड़ी विभिन्न मांगों व समस्याओं पर चर्चा कर सरकार व उपमंडलीय प्रशासन से सकारात्मक कार्रवाई अमल में लाकर राहत प्रदान करने का आग्रह किया। बैठक में वक्ताओं ने 65 से 75 वर्ष की आयु पूर्ण कर चुके पेंशनरों की पेंशन में पांच से 15 फीसदी की बढ़ोतरी कर मूल पेंशन में समायोजित करने की मांग उठाई। वक्ताओं ने पेंशनरों के लंबित मेडिकल बिलों के भुगतान हेतु जल्द बजट का प्रावधान भी मांगा। उन्होंने मेडिकल भत्ते को चार सौ रुपए मासिक से बढ़ाकर एक हजार रुपए करने की मांग भी सरकार से की।  वक्ताओं ने लोगों की सुविधा के लिए एसडीएम भटियात की केंप कोट सप्ताह में एक बार तहसील मुख्यालय में रखने के अलावा राजस्व रिकार्ड व मुसाबी आदि की उपलब्धता एसडीएम कार्यालय में करने की मांग भी उठाई। वक्ताओं ने सिहंुता पीएचसी में रिक्त पडे चिकित्सकों व पैरा मैडिकल स्टाफ के पदों को भरने का आग्रह भी किया। वक्ताओं ने वन विभाग के सिहंुता डिपो में बालन की उपलब्धता सुनिश्चित बनाने और को- आप्रेटिव बैंक की सिहंुता व टुंडी शाखा में एटीएम सुविधा की मांग भी की है। बैठक में खंड इकाई के महासचिव आंेकार सिंह चौहान, ओमप्रकाश शर्मा, मेघराज, लेख चंद राणा, कांता, खेलो राम, कमल कुमार, रांझो राम व विचित्र सिंह समेत 25 पेंशनरों ने भाग लिया।

You might also like