मेरठ शिफ्ट न हो आरट्रैक

शिमला – राज्यसभा में उपनेता एवं पूर्व केंद्रीय मंत्री आनंद शर्मा ने आरट्रैक को शिमला से मेरठ शिफ्ट न करने की अपील केंद्र सरकार से की है। आनंद शर्मा ने रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह को एक पत्र लिखकर मसले में हस्तक्षेप करने को कहा है। पूर्व केंद्रीय मंत्री ने रक्षा मंत्री को अवगत करवाया कि आरट्रैक का अपना इतिहास रहा है। भारत-पाक युद्ध के दौरान आरट्रैक की महत्त्वपूर्ण भूमिका रही है। उल्लेखनीय है कि आर्मी ट्रेनिंग कमांड को शिमला से मेरठ शिफ्ट करने की चर्चा पिछले छह महीने से चल रही है, जिसे दिल्ली से करीब 70 किलोमीटर दूर मेरठ में किया जा सकता है। इस कदम को उठाने से पहले सेना ने जमीन व भवनों का निरीक्षण कर लिया है। बताया गया कि आरट्रैक को सैन्य प्रशिक्षण महा निदेशालय के साथ ही रखने का प्रस्ताव तैयार हो चुका है। इस विलय को भारतीय सेना के पुनर्गठन का हिस्सा बताया जा रहा है। मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर भी इस मसले को प्रधानमंत्री व रक्षा मंत्री से मिलकर इस बात को सुनिश्चित करने का प्रयास करेंगे कि प्रतिष्ठित सेना प्रशिक्षण कमांड का न तो विलय किया जाए और न ही इसे शिमला से स्थानांतरित किया जाए। ऐसे में अब मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर जल्द ही रक्षा मंत्री के समक्ष आर्मी कमांड को शिफ्ट न करने के बारे अपना पक्ष रखेंगे।

You might also like