मोलदोवा में राजनीतिक संकट से नाटो चिंतित

 

मोलदोवा में राजनीतिक संकट से नाटो चिंतित

 उत्तर अटलांटिक संधि संगठन (नाटो) पूर्वी यूरोपीय देश मोलदोवा में मौजूदा राजनीतिक संकट से चिंतित है और पार्टियों के बीच शांति एवं संयम से बातचीत का आह्वान किया। नाटो के प्रवक्ता ओना लुंगस्कु ने रविवार को यह जानकारी दी। नाटो की ओर से जारी बयान में कहा गया, ‘नाटो मोलदोवा गणराज्य में राजनीतिक संकट से चिंतित है और इसपर नजर रखे हुए है। हम देश में सभी राजनीतिक ताकतों से शांति एवं संयम बरतने और बातचीत के जरिए उनके मतभेदों को हल करने का आह्वान किया है।’
प्रवक्ता ने जोर देकर कहा कि देश के निर्वाचित नेताओं को संकट हल करने के लिए सहयोग करने की आवश्यकता है और रक्षा एवं सुरक्षा के क्षेत्र में सुधारों को आगे बढ़ाने के लिए मोलदोवा के समर्थन की पुष्टि की।मोलदोवा की सोशलिस्टों पार्टी जो रूस के साथ तालमेल का समर्थन करती है और यूरोपीय संघ समर्थक एसीयूएम ब्लॉक के साथ शनिवार को एक सहयोग समझौते पर हस्ताक्षर करके और फरवरी में हुए अनिर्णायक चुनाव के महीनों बाद संसद की बैठक में सरकार बनायी।मोलदोवा की संवैधानिक न्यायालय ने इन फैसलों को असंवैधानिक घोषित किया है जबकि संसद ने पूर्व सत्तारूढ़ यूरोपीय संघ समर्थक लोकतांत्रिक पार्टी पर न्यायपालिका का इस्तेमाल करने का आरोप लगाया। मोलदोवा की संवैधानिक न्यायालय ने संसद के निर्णयों को असंवैधानिक घोषित किया, यह मानते हुए कि मौजूदा विधायिका ने चुनाव के बाद सात जून तक एक नयी सरकार बनाने में विफल रही लिहाजा इसे भंग कर दिया जाना चाहिए।

 

You might also like