यूएस से जंग दुनिया के लिए खतरनाक

चीन की चेतावनी, ताइवान-दक्षिण चीन सागर में दखलंदाजी न करे अमरीका

सिंगापुर –चीन ने रविवार को चेतावनी देते हुए कहा कि अमरीका से जंग हुई तो यह दुनिया के लिए भयावह साबित होगा। बेहतर होगा कि अमरीका ताइवान और दक्षिण चीन सागर के मुद्दे पर दखलंदाजी न करें। यह चेतावनी चीन के रक्षा मंत्री वेई फेंगहे ने सिंगापुर में रक्षा मुद्दे पर आयोजित शांगरी-ला डायलॉग कार्यक्रम के दौरान दी। हाल ही में ट्रंप प्रशासन ने स्वशासित और लोकतांत्रिक व्यवस्था वाले ताइवान को समर्थन देना शुरू किया था। साथ ही अमरीका ने ताइवान स्ट्रेट (जलडमरूमध्य) में अपने जहाज भेजे थे। रक्षा मंत्री ने कहा कि अगर किसी ने ताइवान और चीन के संबंधों में हस्तक्षेप करने की कोशिश की, तो हम अंत तक लड़ेंगे। हमारे लिए ताइवान एक पवित्र क्षेत्र की तरह है। एशिया में चीन के आपरेशन का मकसद खुद की सुरक्षा कायम रखना है। हम किसी पर हमला नहीं करेंगे, लेकिन अपने हितों की रक्षा के लिए हमला करने से नहीं चूकेंगे। वेई 2011 के बाद पहले ऐसे चीनी रक्षा मंत्री हैं, जिन्होंने शांगरी-ला डायलॉग में हिस्सा लिया। रक्षा मंत्री ने यह भी कहा कि चीन को तोड़ने वाले कदम को बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। ताइवान में दखलंदाजी करने वाले प्रयास नाकाम होंगे। अगर कोई ताइवान को चीन से अलग करने की कोशिश करेगा तो हमारी सेना के पास लड़ने के अलावा कोई चारा नहीं रहेगा। जिस तरह अमरीका अविभाजित है, वैसी ही स्थिति चीन की है। हमारा देश हर हाल में एक रहेगा। कई देशों की तरह अमरीका के भी ताइवान से औपचारिक रिश्ते नहीं हैं, लेकिन वह न केवल ताइवान का मजबूती से समर्थन करता है, बल्कि उनके हथियारों का मुख्य स्रोत है।

You might also like