राजधानी में बरसी राहत की फुहारें

शिमला —जिला शिमला में गुरुवार को आसमान से राहत की फुहारें बरसी हैं। गुरुवार को जिला शिमला के अधिकांश क्षेत्रों में सुबह के समय दो बार बारिश हुई। बारिश से जनता ने प्रचंड गर्मी से काफी हद तक की राहत ली है। मौसम विभाग की मानें, तो जिला शिमला में अगामी दो दिनों के दौरान मौसम साफ रहेगा, जबकि जिला शिमला में दस  से 12  जून तक फिर से बारिश होगी। इस दौरान तापमान में और उछाल आने की संभावना जताई जा रही है, जो जनता को और राहत लेकर आ सकता है। शिमला में गुरुवार सुबह से ही आसमान में काले बादल घिरने शुरू हो गए थे। थोड़ी ही देर में शिमला में ठंडी हवाओं के साथ बारिश शुरू हो गई। शिमला में दोपहर तक मौसम खराब रहा। हालांकि शिमला में दोपहर के समय मौसम साफ रहा, मगर शाम के  समय शिमला में फिर से आसमान में काले बादल घिरने शुरू हो गए थे। शिमला में हुई बारिश के बाद अधिकतम व न्यूनतम तापमान में गिरावट रिकार्ड की गई है। शिमला का न्यूनतम तापमान लुढ़क कर 18 डिग्री सेल्सियस तक पहुंच गया है। इसके अलावा शिमला के अधिकतम तापमान में भी एक से दो डिग्री सेल्सियस तक की गिरावट आंकी गई है। शिमला के तापमान में लगातार बढ़ोतरी आने के बाद हिल्सक्वीन शिमला में भी भीषण गर्मी पड़ रही थी। दिन के समय प्रचंड गर्मी से बचने के लिए लोगों को छाव तलाशते हुए देखा जा रहा था, मगर तापमान में एकाएक गिरावट आने से शिमला में मौसम फिर से सुहावना हो गया है, जो बाहरी राज्यों से शिमला पहुंचे सैलानियों को खूब लुभा रहा है। सैलानी उक्त मौसम का भरपूर लुत्फ उठा रहे हैं।

ओलावृष्टि व तूफान ने डराए लोग

जिला शिमला में लोग ओलावृष्टि व तूफान से सहमे हुए है। लोगों में अभी भी बारिश व ओलावृष्टि का डर है। जिला में पहले ही ओलावृष्टि जमकर कहर मचा चुके है। ऐसे में यदि फिर से ओलावृष्टि होती है तो किसानों व बागबानों को भारी दिक्कतों का सामना करना पड़ सकता है।

You might also like