राजेश्वर गोयल ने संभाला डीसी बिलासपुर का कार्यभार

बिलासपुर—आईएएस अधिकारी राजेश्वर गोयल ने उपायुक्त बिलासपुर का कार्यभार संभाल लिया है। गोयल वर्ष 2012 बैच के भारतीय प्रशासनिक सेवा के अधिकारी हैं। इससे पूर्व वह डीसी शिमला के पद पर कार्यरत थे। सोमवार दोपहर बाद उन्होंने डीसी बिलासपुर का कार्यभार संभाला है। पदभार संभालते ही उन्होंने डीसी आफिस में चल रहे सभी विभागों का निरीक्षण किया। इसके उपरांत कर्मचारियों से मुलाकात कर विभाग में चल रही गतिविधियों का जायजा लिया। वहीं एडीएम राजीव कुमार से काफी समय तक बातचीत कर विभाग के कार्यों की समीक्षा भी की गई। इसके बाद उपायुक्त ने विभिन्न विभागों के अधिकारियों के साथ बचत भवन में बैठक ली। इसमें चुनाव के दौरान पेंडिंग पडे़ सभी कार्यों को जल्द निपटाने के लिए कहा गया। उपायुक्त ने सभी एसडीएम को निर्देश दिए हैं कि वे 15 दिन में कम से कम एक पंचायत का दौरा करें। उन्होंने यह भी कहा कि बिलासपुर जिला शिक्षा के रूप में उभर रहा है। ऐसे में जिले में शिक्षा के लिए भी विशेष पालिसी बनाई जाएगी। दूसरी बार उपायुक्त की जिम्मेदारी संभाल रहे राजेश्वर गोयल ने कहा कि सभी पुराने मामलों को प्रमुखता से निपटाया जाएगा। उल्लेखनीय है कि इससे पहले बिलासपुर में उपायुक्त के पद पर आईएएस विवेक भाटिया तैनात थे, उन्हें यहां से तबादला कर उपायुक्त चंबा लगाया गया है। बता दें कि राजेश्वर गोयल 2012 बैच के आईएएस अधिकारी हैं।

इन-इन पदों पर सेवाएं दे चुके हैं डीसी

आईएएस राजेश्वर गोयल वर्ष 2013 से 2018 तक निदेशक तकनीकी शिक्षा और निदेशक टीसीपी के पद पर सेवाएं दे चुके हैं। 2011 से 12 तक एडीसी हमीरपुर, 2001 से 2004 तक जीएम उद्योग विभाग जिला सोलन, 2006 से 2008 तक डा. वाईएस परमार बागवानी एवं वाणिकी विश्वविद्यालय नौणी में रजिस्ट्रार के पद पर भी सेवाएं दे चुके हैं। राजेश्वर गोयल पूर्व में एसडीएम मंडी, राजगढ़ और नाहन भी रह चुके हैं। लोकसभा चुनाव में शिमला की कमान मिलने के बाद अब प्रदेश सरकार ने राजेश्वर गोयल के तबादला आदेश कर इन्हें बिलासपुर भेजा है ।

नशे से दूर रखने को चलाएंगे अभियान     

उपायुक्त राजेश्वर गोयल ने कहा कि समाज कल्याण, महिला एवं बाल विकास विभाग की तरफ  से आरंभ किए गए विभिन्न कार्यक्रमों का सुचारू कार्यान्वयन सुनिश्चित किया जाएगा। युवाओं को नशे से दूर रखने के लिए भी विशेष अभियान आरंभ किया जाएगा। ग्रामीण तथा शहरी क्षेत्र में स्वच्छता पर विशेष फोक्स रहेगा। जिला में सौर उर्जा के प्रयोग को लेकर भी प्लान तैयार किया जाएगा।

You might also like