राष्ट्रीय राज्य कर्मचारी महासंघ का अधिवेशन तिरुवनंतपुरम में आठ से

सोलन—राष्ट्रीय राज्य कर्मचारी महासंघ का 8वां त्रिवार्षिक राष्ट्रीय अधिवेशन प्रियदर्शनी ओडिटोरियम केरल कि राजधानी तिरुवनंतपुरम में आठ व नौ जून को होगा। इसमें कर्मचारियों के राष्ट्रीय मुद्दों पर चर्चा की जाएगी। जिसमंे मुख्यता न्यू पेंशन स्कीम को बंद कर सीसीएस पेंशन नियम 1972 को लागू करना, राष्ट्रीय स्तर पर केंद्रीय वेतनमान, सेवानिवृत्त आयु व सर्विस रूल एक समान लागू होना, ग्रुप इंश्योरेंस कि सीमा 15 लाख, आय कर सीमा आठ लाख कि जाए, सभी राज्यों में बोर्डों, निगमों, व स्वायत संस्थाओं में तकनीकी स्टाफ, तृतीय श्रेणी, लिपिक, चतुर्थ श्रेणी के खाली पदों को भरना, आउटसोर्स, व अनुबंध पर नियुक्तियां बंद की जाए, उच्चतम न्यायालय के कर्मचारी हित मंे दिए गए फैंसले नॉन पेटिशनर पर भी लागू हों जैसे मुद्दों पर चर्चा होगी। सोलन जिला अराजपत्रित कर्मचारी महासंघ के अध्यक्ष व हिमाचल प्रदेश पेरावेट्स संघ के प्रदेश महासचिव जेके ठाकुर ने कहा कि राष्ट्रीय राज्य कर्मचारी महासंघ के आह्वान पर हिमाचल प्रदेश अराजपत्रित कर्मचारी महासंघ के चुनिंदा पदाधिकारी इसमें भाग लेंगे, जिसमंे राष्ट्रीय राज्य कर्मचारी महासंघ के राष्ट्रीय  महासचिव विपिन डोगरा, राष्ट्रीय कोषाध्यक्ष नंद लाल शर्मा, अराजपत्रित कर्मचारी महासंघ के प्रदेश महासचिव  एनआर ठाकुर, भारतीय  मजदूर संघ के प्रदेश महासचिव मंगत राम नेगी, जिला सोलन अराजपत्रित कर्मचारी महासंघ के अध्यक्ष जेके ठाकुर, जिला बिलासपुर अराजपत्रित कर्मचारी महासंघ के अध्यक्ष इंद्र सिंह ठाकुर, प्रदेश आयुर्वेदा संघ के राज्य अध्यक्ष सूरज नेगी के अलावा अन्य कर्मचारी नेता भी भाग लेंगे। इसमें देश के सभी राज्यों के पदाधिकारी व सारे भारत वर्ष से लगभग 700 प्रतिनिधि भाग लेंगे। 10 जून को कन्याकुमारी (तमिलनाडु) में विवेकानंद स्मारक में श्रद्धा सुमन अर्पित कर के कर्मचारी नेता नई ऊर्जा के साथ अपने-अपने राज्य लौटेंगे।

You might also like