राहुल गांधी! प्लीज रिजाइन न करें

शिमला—शिमला जिला शहरी और ग्रामीण कांग्रेस ने शुक्रवार को कांग्रेस कार्यालय राजीव भवन के बाहर एक सभा का आयोजन कर कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी से अपना इस्तीफा वापस लेने की गुहार लगाते हुए कहा कि पार्टी के नेता और कार्यकर्ता किसी भी संघर्ष या बलिदान के लिए तैयार हंै। लोकसभा में पार्टी की हार से निराशा तो हुई है पर हताशा बिल्कुल नहीं है। बैठक में विशेष तौर पर शामिल हुए प्रदेश अध्यक्ष कुलदीप सिंह राठौर ने सभा को आश्वासन दिया कि कार्यकर्ताओं की  भावनाओं को वह राहुल गांधी तक पहुंचाएंगे। उन्होंने कहा कि पार्टी के लिए यह परीक्षा की घड़ी है। इसमें हमें एकजुट हो कर आगे बढ़ना है। कांग्रेस पार्टी को आज बहुत मजबूत नेतृत्व की आवश्यकता है जो राहुल गांधी ही दे सकते हैं। उन्होंने कहा कि चुनावों में जीत हार, स्थाई नही है, आज हारे हैं तो कल जीतेंगे भी। राठौर ने कहा कि पार्टी हार का विश्लेषण तो करेगी ही, पर अभी हमें अपने राष्ट्रीय नेतृत्व को मजबूत और बलवान बनाना है जिससे वह और अधिक मजबूती से विपक्ष का मुकाबला कर सके। उन्होंने कहा कि कांग्रेस अब प्रदेश कार्यालय से नहीं ग्रास रूट और गांव से चलेगी। महिला कांग्रेस अध्यक्ष जैनव चंदेल ने इस अवसर पर कहा कि प्रदेश महिला कांग्रेस पूरी तरह अपने राष्ट्रीय नेतृत्व राहुल गांधी के साथ खड़ी है। इस समय देश को विशेष तौर पर कांग्रेस पार्टी को मजबूत नेतृत्व की बहुत आवश्यकता है जो राहुल गांधी ही दे सकते हैं, इसलिए उन्हें अपना इस्तीफा पार्टी व कार्यकर्ताओं की भावनाओं को देखते हुए तुरंत वापिस लेना चाहिए। इससे पूर्व शिमला शहरी के अध्यक्ष अरुण शर्मा, ग्रामीण के अध्यक्ष यशवंत छाजटा ने अपने संबोधन में प्रदेशाध्यक्ष कुलदीप सिंह राठौर से आग्रह किया कि वो शिमला कांग्रेस के कार्यकर्ताओं की भावनाओं को राहुल गांधी तक पहुंचाएंं जिसमें उन्होंने उनके अध्यक्ष पद पर बने रहने की अपील करते हुए अपना त्यागपत्र वापस लेने की मांग की है। इस अवसर पर प्रदेश कांग्रेस महासचिव रजनीश किमटा, उपाध्यक्ष महेंद्र चौहान, रोहड़ू के विधायक मोहन लाल ब्राक्टा, कांग्रेस सचिव हरि कृष्ण हिमराल, सोनिया चौहान, अजय बहादुर, बलदेव ठाकुर, कविता सिंह, आशा कंवर, विनीता वर्मा, शर्मिला पटियाल, केहर सिंह खाची, नरेश चौहान, महेश्वर सिंह पांडू, राकेश शर्मा, जेएन मेहता, कविता कंवर, जितेंद्र चौधरी, चंद्र शेखर शर्मा, एमडी शर्मा, हरीश जनार्था, निर्मला ठाकुर के अतिरिक्त कई अन्य कांग्रेस के पदाधिकारी एवं कार्यकर्ता मौजूद थे।

You might also like