रूसा को बंद करे सरकार

मंडी —प्रदेश छात्र संगठन ने प्रदेश सरकार से महाविद्यालयों में चलाए गए रूसा को तुरंत बंद करने की मांग की है। संगठना का कहना है कि इस सिस्टम की वजह से युवाओं का फायदा नहीं, बल्कि नुकसान हो रहा है। मंडी में आयोजित एक पत्रकार वार्ता के दौरान प्रदेश छात्र संगठन के पदाधिकारियों ने कहा कि अगर इस विषय पर सरकार ने शीघ्र गंभीर कदम नहीं उठाए तो छात्रों को मजबूर होकर बड़ा आंदोलन करना पडे़गा। इस अवसर पर संगठन के प्रदेश अध्यक्ष अपूर्व घोष ने कहा कि प्रदेश छात्र संगठन रुसा के खिलाफ आंदोलन कर रहा है। सभी संगठनों के विद्यार्थी मिल कर हिमाचल प्रदेश छात्र संगठन के साथ आंदोलन करने को तैयार हैं। उन्होंने कहा कि रूसा की वजह से विद्यार्थी 45 प्रतिशक अंक भी नहीं ले पा रहे हैं।  इसके साथ ही सिस्टम में अन्य कितनी ही खामियां हैं, जिसने युवाओं का भविष्य बर्बाद कर रख दिया है। उन्होंने कहा कि वर्तमान सरकार ने आश्वासन दिया था कि रूसा को बंद कर दिया जाएगा, लेकिन ऐसा न करके रूसा को सेमेस्टर सिस्टम से हटा कर वार्षिक आधार पर कर दिया गया है, जिससे विद्यार्थियों की दिक्कतें और बढ़ गई हैं। रूसा को बंद नहीं किया गया तो छात्र संगठन सड़कों पर उतरेंगे और उग्र आंदोलन करेंगे। इस अवसर पर संगठन के महासचिव नीरज सूद मंडी, कोषाध्यक्ष कमलेश कुमार कुल्लू, सचिव आकाश गुलेरिया बिलासपुर और शुभम धीमान सहित कई सदस्य मौजूद रहे। 

You might also like