रूस से डील पर फिर बौखलाए ट्रंप

वाशिंगटन -भारत और रूस के बीच पिछले साल हुई एस-400 मिसाइल डिफेंस सिस्टम डील पर अमरीका ने नाराजगी जताई है। डोनाल्ड टं्रप प्रशासन नेधमकी देते हुए कहा है कि भारत का यह फैसला अमरीका और भारत के रिश्तों पर गंभीर असर डालेगा।  अमरीकी विदेश विभाग के एक अधिकारी ने कहा कि नई दिल्ली का मॉस्को से रक्षा समझौता करना बड़ी बात है, क्योंकि ‘काट्सा कानून’ के तहत दुश्मनों से समझौता करने वालों पर अमरीकी प्रतिबंध लागू होते हैं। ट्रंप प्रशासन पहले ही साफ कर चुका है कि इस कानून के बावजूद समझौता करने वाले देश रूस को गलत संदेश पहुंचा रहे हैं। यह चिंता की बात है। अधिकारी ने नाम न बताने की शर्त पर कहा कि आप देख सकते हैं अमरीका दुश्मनों से समझौता करने वालों पर कैसी कार्रवाई कर रहा है। हमने अपने नाटो पार्टनर तुर्की को भी एस-400 खरीदने के लिए कड़ा संदेश दिया है। अमरीका ने हाल ही में रूस से रक्षा समझौता करने के लिए तुर्की को लॉकहीड मार्टिन के एफ-35 फाइटर जेट बेचने पर रोक लगाई थी। अधिकारी ने कहा कि अमरीका इस तरह के मामलों में हर देश से अलग तरह से निपटेगा। हालांकि, बड़ा मुद्दा यह है कि भारत के सैन्य रिश्ते किस तरफ जा रहे हैं। किसके साथ वह आधुनिक तकनीक और बेहतर माहौल साझा करना चाहता है। हमारे बीच कांबैट एयरक्राफ्ट और कई अन्य विकसित हथियारों के समझौते पर बात चल रही है। ऐसे में भारत की एस-400 डील का बातचीत पर  असर पड़ेगा।

You might also like