लंबेड़ा में गोशाला राख

अग्निकांड में घास व इमारती लकड़ी जलकर स्वाह, फायर ब्रिगेड ने मौके पर पहुंच पाया काबू

हमीरपुर –जंगल की आग से लंबेड़ा गांव की पशुशाला में आग लग गई। इसके चलते पशुशाला में रखी तूड़ी, घास व इमारती लकड़ी जलकर राख हो गई है। पीडि़त परिवार को करीब 20 हजार रुपए का नुकसान हुआ है। जानकारी के अनुसार बुधवार दोहपर अढ़ाई बजे के करीब कर्म चंद पुत्र स्व. सीता राम गांव लंबेड़ा डाकघर याह की पशुशाला की दूसरी मंजिल में आग लग गई। घर के सदस्यों ने जब पशुशाला से धुआं उठता देखा, तो शोर मच गया। आसपास के लोग भी पानी लेकर घटनास्थल पर दौड़ पड़े। ग्रामीणों ने इसकी सूचना फायर बिग्रेड को भी दे दी। फायर बिग्रेड का वाहन भी सूचना मिलते ही तुरंत घटना स्थल पर पहुंचा और आग पर काबू पाया, लेकिन तब तक आगजनी से तूड़ी, घास व ईमारती लकड़ी जलकर राख हो गई। इसके चलते पीडि़त व्यक्ति को करीब 20 हजार रुपए का नुकसान हुआ है। बताया जा रहा है कि किसी ने अपनी मलकियती भूमि में आग लगाई थी, जोकि जंगल में भड़क गई और आग पशुशाला की दूसरी मंजिल में लग गई थी। हालांकि समय रहते आग पर काबू पा लिया गया, नहीं तो बड़ा हादसा घट सकता था। इसके अलावा अणुकलां के जंगल में भी दोपहर बाद आग भड़क गई थी। लोगों की सूचना पर फायर बिग्रेड का वाहन तुरंत घटनास्थल पर पहुंचा, नहीं तो आगजनी से एक ढाबा राख हो सकता था।

चिगड़ जंगल में लगी आग, तुरंत पाया काबू

चिगड़ के जंगल में भी भयानक आग लग गई थी। लोगों ने इसकी सूचना फायर बिग्रेड को दी। सूचना मिलते ही फायर बिग्रेड का वाहन तुरंत घटना स्थल पर पहुंचा और लाखों रुपए की वन संपदा को आग की भेंट चढ़ने से बचाया, नहीं तो आगजनी से काफी वन संपदा राख हो सकती थी।

मिलकियत भूमि में लगाई आग मकान तक पहुंची

लंबेड़ा गांव में ही मिलकियत भूमि में लगाई गई आग रिहायशी मकान तक पहुंच गई। ऐसे में गांव की महिला ने फायर बिग्रेड को तुरंत सूचना दी। फायर बिग्रेड भी सूचना मिलते ही तुरंत घटनास्थल पर पहुंचा और आग पर काबू पाया, नहीं तो आगजनी से अजीत सिंह पुत्र स्व. तुलसी राम का रिहायशी मकान राख हो सकता था।

 

You might also like