वर्ल्ड कप में आज ‘मिनी एशेज’, इंग्लैंड को जीत जरूरी

श्री लंका के खिलाफ उलटफेर का शिकार होने के बाद इंग्लैंड की टीम मंगलवार को ऐतिहासिक लॉर्ड्स स्टेडियम पर उतरेगी तो उसके सामने उस ‘ऑस्ट्रेलियाई पहेली’ को सुलझाने की चुनौती होगी, जिसे वह 27 सालों से नहीं सुलझा सका है। छह मैचों में चार जीत दर्ज करते हुए इंग्लैंड तालिका में चौथे स्थान पर काबिज है। खिताब की प्रबल दावेदार मानी जा रही मेजबान टीम को अब अंतिम-4 में अपनी जगह सुनिश्चित करने के लिए बाकी बचे तीन में से दो मैच जीतने ही होंगे। इंग्लैंड के लिए हालांकि, यह काम आसान नहीं होने वाला क्योंकि उसे ऑस्ट्रेलिया के बाद न्यू जीलैंड और भारत का सामना करना है। पिछले 27 वर्षों में वर्ल्ड कप में इंग्लैंड की टीम ऑस्ट्रेलिया, भारत और न्यूजीलैंड के खिलाफ एक भी मैच नहीं जीत पाई है। बैटिंग पिच पर होते हैं हिट 
इंग्लैंड ने इन चार साल में दो बार वनडे क्रिकेट का सर्वोच्च स्कोर बनाया है। महज सालभर पहले ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ छह विकेट पर 481 रन बनाए थे। आंकड़ें बताते हैं कि इंग्लैंड ने चैंपियंस ट्रोफी 2017 सेमीफाइनल में पाकिस्तान से हारने के बाद जिन सबसे कठिन वनडे पिचों पर खेला है, उन पर पांच मैच गंवाए हैं। दूसरी ओर बल्लेबाजों की मददगार पिचों पर 11 में से नौ मैच जीते हैं। 

प्लेइंग-XI (संभावित)
इंग्लैंड- जॉनी बेयरस्टो, जेम्स विंस, जो रूट, इयोन मॉर्गन, बेन स्टोक्स, बेन स्टोक्स, जोस बटलर, मोईन अली, क्रिस वोक्स, आदिल राशिद, जोफ्रा आर्चर, मार्क वुड

 
 


ऑस्ट्रेलिया- आरोन फिंच, डेविड वॉर्नर, उस्मान ख्वाजा, स्टीव स्मिथ, ग्लेन मैक्सवेल, मार्कस स्टॉयनिस, एलेक्स कैरी, जेसन बेहरेनडॉर्फ, पैट कमिंस, मिशेल स्टार्क, एडम जम्पा
 

You might also like