वाई कैटेगरी के सुरक्षा घेरे में अनुराग

हमीरपुर —मोदी सरकार में केंद्रीय राज्यमंत्री बने अनुराग ठाकुर वाई कैटेगरी की सिक्योरिटी के बीच शुक्रवार को हमीरपुर पहुंचे। केंद्रीय राज्यमंत्री बनने के बाद उनकी सुरक्षा बढ़ा दी गई है। अब उनके आधुनिक हथियारों से लैस दो पीएसओ के अलावा हर वक्त 11 जवान सुरक्षा में तैनात रहेंगे। इनमें हथियारों से लैस एक सब-इंस्पेक्टर, दो हैड कांस्टेबल और आठ कांस्टेबल शामिल होंगे। इनमें दो से तीन कमांडों ट्रेंड होंगे।वे जहां-जहां जाएंगे दो पीएसओ के अलावा 11 जवानों का यह सुरक्षा घेरा हर वक्त उनके साथ होगा। इन 11 जवानों की तैनाती संबंधित प्रदेश के जिला प्रशासन को उनकी सुरक्षा के दृष्टिगत करनी होगी। इसके अलावा स्थानीय थाने की पुलिस उनके साथ तैनात रहेगी। बता दें कि इससे पहले जब अनुराग सांसद थे तो उन्हें एक पीएसओ दिया गया था। इसके अलावा जब कहीं कार्यक्रम होता था तो वहां के थाने के कर्मचारी वहां ड्यूटी पर लगाए जाते थे। बता दें कि किसी भी वीआईपी या वीवीआई के थ्रेट प्रेसेप्शन को देखते हुए उन्हें सुरक्षा मुहैया करवाई जाती है। भारत में सिक्योरिटी को चार कैटेगरी में बांटा गया है। इनमें एक्स, वाई, जैड और जैड प्लस शामिल हैं। जानकारी के मुताबिक एक्स कैटेगरी में एक पीएसओ के अलावा दो से तीन जवान सुरक्षा व्यवस्था में तैनात रहते हैं। वाई कैटेगरी में दो पीएसओ के अलावा ट्रेंड कमांडो समेत 11 जवानों की तैनाती की जाती है। जैड सिक्योरिटी में 4 से 5 एनएसजी (नेशनल सिक्योरिटी ग्रुप) के अलावा आईटीबीपी या सीआरपीएफ के 22 कमांडो तैनात होते हैं। जेड सिक्योरिटी में हर वक्त एक एस्कोर्ट वीआईपी के आगे चलती है। भारत में कैबिनेट मंत्रियों मुख्यमंत्रियों के अलावा बाबा रामदेव और अभिनेता अमिर खान को भी जेड सिक्योरिटी दी गई है। इसके अलावा स्थानीय पुलिस सुरक्षा में तैनात रहती है। उसके बाद आती है जैड प्लस कैटेगरी । जानकारी के मुताबिक जैड प्लस में 55 सुरक्षा कर्मी तैनात होते हैं। इनमें 10 प्लस एनएसजीे कमांडो के अलावा पुलिस के जवान तैनात रहते हैं। भारत में प्रधानमंत्री, राष्ट्रपति, पार्टी अध्यक्ष, वित्त मंत्री, समेत 12 से 13 वीवीआईपी जैड प्लस में आते हैं। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को भी जैड प्लस की सुरक्षा है।

You might also like