विकास में पूर्व कर्मियों की अहम भूमिका

सोलन में पेंशनर्ज कल्याण मंच के अधिवेशन में बिंदल के बोल

सोलन  – देश तथा प्रदेश के विकास में सेवानिवृत्त कर्मचारियों की सराहनीय भूमिका रही है। हिमाचल जैसे पहाड़ी राज्य को विद्युत राज्य बनाने में बोर्ड के सेवानिवृत्त कर्मियों की विशिष्ट भूमिका रही है। इनके अनुभवों का लाभ उठाकर देश व प्रदेश का चहुंमुखी विकास सुनिश्चित बनाया जा सकता है। ये शब्द सोलन में राज्य विद्युत बोर्ड पेंशनर्ज कल्याण संघ के चौथे राज्य स्तरीय अधिवेशन में बतौर मुख्य अतिथि पहुंचे विधानसभा अध्यक्ष डा. राजीव बिंदल ने कहे। उन्होंने कहा कि किसी भी प्रदेश के कर्मचारी उसकी रीढ़ होते हैं तथा अधिकारियों व कर्मचारियों की कार्य के निष्ठा के चलते ही प्रदेश को प्रगति के पथ पर अग्रसर किया जा सकता है। उन्होंने सेवानिवृत वरिष्ठ अधिकारियों से आग्रह किया कि वे युवा अधिकारियों व कर्मचारियों को अपने अनुभवों से लाभान्वित करें। डा. बिंदल ने राज्य विद्युत बोर्ड में रिक्त पड़े फील्ड कर्मचारियों के पदों को भरने का मामला मुख्यमंत्री से उठाने का भरोसा भी दिलाया। पेंशनरों को कैशलैस चिकित्सा प्रतिपूर्ति से जोड़ने के लिए भी उचित स्तर पर वार्ता करने का आश्वासन दिया। विधानसभा अध्यक्ष ने कहा कि भाजपा के सदैव ही कर्मचारियों एवं पेंशनर्ज के साथ सौहार्दपूर्ण संबंध रहे हैं। मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर के नेतृत्व में प्रदेश सरकार ने सत्ता संभालते ही पेंशनर्ज व नियमित कर्मियों को समय-समय पर महंगाई भत्ता जारी किया है। श्री बिंदल ने पेंशनर्ज कल्याण संघ की सभी जायज मांगों का शीघ्र निदान करने का आश्वासन भी दिया। इस अवसर पर डा. बिंदल ने पेंशनरों को सम्मानित भी किया। उन्होंने इस अवसर पर द्वारा निकाली गई स्मारिका का भी विमोचन किया। इस अवसर पर बघाट बैंक के अध्यक्ष पवन गुप्ता, भाजपा मंडल सोलन के अध्यक्ष रविंद्र परिहार, पेंशनर्ज एसोसिएशन के प्रदेश अध्यक्ष बीके सूद, महासचिव पीएल गुप्ता, केडी शर्मा, एसडी रतन, एसके सेन आदि उपस्थित थे।

You might also like