शराब ठेके के खिलाफ चाढ़ना में प्रदर्शन

नौहराधार—ग्राम पंचायत चाढ़ना में गांव के बाजार में खुल रहे शराब ठेके के विरोध में गांव के ग्रामीणों ने पंचायत प्रधान की अगवाई में प्रदर्शन किया। ग्रामीणों ने शराब के ठेके को लेकर पूरे बाजार व गांव में नारेबाजी की। पंचायत प्रधान भीमराज धीमान ने कहा कि इस ठेके के करण आए दिन शराब से नौजवान बिगड़ रहे हैं। उन्होंने कहा कि इस बारे वह उपायुक्त सिरमौर को भी ज्ञापन दे रहे हैं। यही नहीं इस विषय को लेकर को शिमला में मुख्यमंत्री से भी मिलेंगे। इनका कहना है कि बिना पंचायतों की एनओसी से उक्त ठेकेदार यहां ठेका खोलने जा रहा है। मजेदार बात यह है कि एकाएक ठेकेदार शराब लेकर चाढ़ना पहुंच गया। जब किसी ने इन्हें कमरा नहीं दिया तो इनका कहना है कि हम लोग बाहर कहीं भी शैड्नुमा कमरा बनाकर शराब का ठेका खोल देंगे। युवक मंडल चाढ़ना हमेशा सामाजिक कार्यों के लिए चर्चा में बना रहता है। 23 दिसंबर, 2018 को चाढ़ना में एक सामूहिक मीटिंग की थी जिसमें निर्णय लिया था कि इस गांव में नशाबंदी व जुआ खेलने पर रोक लगाने के लिए एक अनूठी पहल शुरू की है। मीटिंग में यह भी निर्णय लिया गया कि यदि कोई व्यक्ति शराब बेचता व पीता है तथा यदि किसी व्यक्ति को ताश खेलते हुए पकड़ा गया तो जुर्माने के साथ-साथ उसे प्रताडि़त भी किया जाएगा। युवक मंडल व गांवों के सहयोग से यह अनूठी पहल रंग लाई। स्वर्ण सिंह, इंद्रपाल, सुनील वर्मा, अनिल नेगी, तपेंद्र वर्मा, नवयुवक मंडल चाढ़ना, नरेंद्र छिंटा ने बताया कि यहां पर पहले नशेडि़यों व जुए का अड्डा बन चुका था। लोगों ने बड़े मुश्किल से शराब बेचने व पीने पर प्रतिबंध लगाया है। क्षेत्र के लोग अब सुखी जीवन व्यतीत कर रहे हैं। दूसरी तरफ यहां पर ठेका खोला जा रहा है जो कि बिलकुल सरासर गलत है। पंचायत से न तो  एनओसी दी है और न ही किसी व्यक्ति को पूछा गया है। जबरदस्ती यहां पर ठेका खोला जा रहा है। ग्रामीणों ने सरकार से मांग की है कि यहां पर शराब का ठेका न खोला जाए। यदि इसके बावजूद भी यहां पर ठेका खोला गया तो इस गांव के अलावा अन्य पंचायतों के ग्रामीण भी सड़कों पर उतर जाएंगे।

You might also like