शिमला में सुलगा तीन मंजिला मकान

सालों पुराने घर में भड़की चिंगारी से दस लाख का नुकसान

 शिमला  —राजधानी शिमला में वर्षों पुराना मकान आग की भेंट चढ़ गया। यह पूरा घर लकड़ी का होने की वजह से पूरी तरह राख हो गया। घटना में दस लाख रुपए के नुकसान का आकलन किया गया है। वहीं, अग्निशमन कर्मियों की मुस्तैदी की वजह से लाखों की संपत्ति जलने से बची है। हालांकि इस घटना में कोई हताहत नहीं हुआ है, लेकिन भयंकर आग लगने से सालों पुराना लकड़ी से बना हुआ तीन मंजिला भवन पूरी तरह राख हो गया। घटना शिमला लक्कड़ बाजार बस स्टैंड के पास गुरुवार देर रात पेश आई है। अग्निशमन विभाग को रात साढे़ 12 बजे लक्कड़ बाजार में पुराने मकान में आग लगने की सूचना मिली। सूचना मिलने के बाद अग्निशमन विभाग के कर्मचारी मौके पर पहुंचे। डिवीजनल फायर ऑफिसर डीसी शर्मा ने बताया कि अग्निशमन विभाग के कर्मचारियों ने आग पर काबू पाने का भरसक प्रयास किया। एक घंटे के भीतर आग पर काबू पा लिया गया था, लेकिन तब तक आग की लपटें पूरे मकान में फैल चुकी थी और यह मकान गिर गया। सूचना मिलने के बाद तुरंत तीनों स्टेशनों मालरोड, छोटा शिमला और बालूगंज से वाहन घटनास्थल तक पहुंचे। मौके पर विभाग के 30 से अधिक कर्मचारी आग पर काबू पाने का कार्य कर रहे थे, लेकिन आग की लपटें काफी भयंकर होने से यह भवन कुछ ही समय में गिर गया। गनीमत रही कि कोई कर्मचारी इसकी चपेट में नहीं आया। अन्यथा बड़ी घटना पेश आ सकती थी।

 

You might also like