संगड़ाह में ‘लच्छी-लच्छी लोक गलांदे…’

संगड़ाह—जिला सिरमौर के प्राचीन मेलों में शामिल अंधेरी बिशु की दूसरी व आखिरी सांस्कृतिक संध्या में दर्शक लोक गायक नरेंद्र नीटू, एचडी ब्रदर्स, हरि चंद चौहान व निर्मला जोंसारी आदि की नाटियों पर जमकर थिरके। एचडी ब्रदर्स के नाम से मशहूर जिला शिमला के लोक गायक हनी नेगी तथा संगड़ाह से संबंध रखने वाले दीपक चौहान ने अपने कार्यक्रम का आगाज पारंपरिक नाटी धारों माते लागो कुपेटू मामा से किया तथा इसके बाद पाता पानो रा लोक गीत से वाहवाही लूटी। एचडी ब्रदर्स द्वारा प्रस्तुत फास्ट बीट के लोक गीत छुमकुआ रे, लच्छी-लच्छी लोक गलांदे व रोहड़ू जाणा मेरी आमिए आदि पर भी दर्शक जमकर थिरके। शिमला जिला के लोक गायक नरेंद्र नीटू ने आइंदी तू किए धारो पांदे बंगलू, तुम्हें दिल्लगी व मेरा नाचणे के जीओ आदि गीतों से युवा दर्शकों को नाचने पर मजबूर किया। उत्तराखंड से संबंध वाली लोक अदाकारा निर्मला जोंसारी ने भिंडरू न मानयो व शाड़ो बाशो ला शावणों आदि गीतों से वाहवाही लूटी, जबकि सिरमौरी लोक गायक हरिचंद चौहान ने मौहरू दी ताजी दासिया, ऐशी सोहणी भादरी व बाघो सयाणा भादरूआ आदि नदियों से तालियां बटोरी। दिलीप चौहान, स्टेला तथा स्थानीय स्कूल के छात्र-छात्राओं द्वारा भी कार्यक्रम प्रस्तुत किए गए। तीन दिवसीय इस मेले का समापन शुक्रवार को हिमाचल प्रदेश कृषि विपणन बोर्ड अध्यक्ष बलदेव भंडारी द्वारा किया गया।

You might also like