सड़क का काम छोड़ भागा ठेकेदार

अंब—पिछले करीब आठ महीनों से निर्माणाधीन मुबारिकपुर मरवाड़ी मार्ग का कार्य अधूरा छोड़ ठेकेदार व उसकी लेबर गायब हो गई है। कार्य अचानक बंद हो जाने से सड़क दुर्घटनाओं के साथ-साथ, धूल मिट्टी से लोगों को भारी परेशानी हो रही है। लोगों ने चेतावनी दी है कि यदि मार्ग का कार्य तुरंत चालू नहीं किया गया तो जनता कड़ा कदम उठाने के लिए विवश हो जाएगी। मुबारिकपुर रामनगर निवासी सचिन पराशर, शाम लाल, चंदन, सुशील, लाल सिंह, रमेश, गुरदीप सिंह, विक्की, सुभाष, मोहित सिंह, मदन, कमला देवी आदि ने बताया कि उक्त निर्माणधीन मार्ग के आधे-अधूरे कार्य के चलते लोग पिछले आठ महीने से नरकमय जिंदगी जी रहे हैं। उन्होंने बताया कि सड़क को उखाड़ने के बाद पेयजल पाइपें क्षतिग्रस्त हो गई हंै। जिसके चलते घरों, दुकानों में पेयजल आपूर्ति बंद हो गई है। इसलिए पानी की आपूर्ति के लिए लोगों को दूर-दूर तक भटकना पड़ रहा है। उन्होंने कहा कि रामनगर व उसके नजदीक सड़क किनारे काफी संख्या में लोगों के आशियाने हंै। जब गाडि़यां सड़क से गुजरती हैं तो सड़क की मिट्टी घरों व लोगों के शरीर के भीतर प्रवेश कर रही है। उन्होंने बताया कि पिछले कई महीनों से धूल-मिट्टी उड़ने के कारण लोगों को स्किन व एलर्जी की समस्या उत्पन्न होना शुरू हो गई हैं। उन्होंने बताया कि बड़ा हैरानगी का विषय है कि 21 करोड़ की राशि से निर्माणाधीन मार्ग का कार्य बीच में छोड़ ठेकेदार कांगड़ा स्थित किसी अन्य सड़क के कार्य में जुट गया है। अब सड़क से मशीनरी व लेबर गायब हो जाने से निर्माणधीन मार्ग दुर्घटनाओं को न्योता दे रहा है। उन्होंने बताया कि पिछले दिनों बुशबीर (22) पुत्र देव राज निवासी मुबारिकपुर जब रामनगर में उखडे़ मार्ग से बाइक पर गुजर रहा था तो सड़क में पडे़ गड्ढे के चलते संतुलन खोकर गिर पड़ा। जिसके चलते रीढ़ की हट्टी टूट जाने से वह सदा के लिए अपाहिज हो गया है। गरीबी के चलते परिजनों की मुसीबतें बढ़ गई हैं। उन्होंने विभाग व सरकार से जल्द सड़क का कार्य मुकम्मल करवाने की मांग उठाई है। उधर, विभाग के एसडीओ बलदेव सिंह से बात करने पर उन्होंने बताया कि ठेकेदार  थोडे़ समय के लिए एक अन्य सड़क कार्य के लिए यहां से कांगड़ा में अपनी मशीनरी ले गया है। लेकिन जल्द उसको वापस बुलाकर कार्य को शुरू किया जाएगा।

You might also like