सड़क बंद करने पर हंगामा

कसौली—नेशनल हाई-वे-5 पर फोरलेन निर्माण के चलते जाबली पंचायत में बंद किए गए चक्की मोड से किम्मूूूघाट सड़क मार्ग को लेकर शुक्रवार को ग्रामीणों ने प्रशासन के समक्ष कड़े शब्दों में रोष जताया। एसडीएम सोलन रोहित राठौड़ एनएचएआई के अधिकारियों संग बंद सड़क का जयजा लेने पहुंचे थे। इस अवसर पर ग्राम पंचायत जाबली के प्रधान दुनी चंद,  कोटी वार्ड पंच रूवीन कुमार,  दतियार वार्ड पंच लक्ष्मी दत्त अत्रि, वार्ड पंच काली चरण,  बीडीसी सदस्य किरण प्रकाश, राम सरण तथा भारी संख्या में महिलाएं पहुंची थीं। लोगों ने एसडीएम सोलन को बताया कि लगभग पिछले कई सालों से चक्की मोड से किम्मूघाट तक लोक निर्माण विभाग की सड़क बन रही है, जिसमें एक दर्जन से अधिक गांव एनएच से सीधे जुड़े होंगे। अब हाई-वे पर फोरलेन का काम शुरू होने के बाद चक्की मोड पर यह सड़क बंद कर दी गई है, जिसके कारण ग्रामीणों का सीधा संपर्क हाई-वे से कट गया है। वर्तमान समय में लोगों को किम्मूघाट से गढ़खल होकर करीव 31 किलोमीटर का लंबा सफर करके हाई-वे पर आना पड़ रहा है, जबकि पहले ग्रामीण मात्र तीन किलोमीटर का सफर तय कर के शिमला-कालका हाई-वे पर आ जाते थे। ग्रामीणों में जिला प्रशासन की कार्य प्रणाली को लेकर भी गहरा रोष पनप रहा है, ग्रामीणों ने मांग की है कि इस सड़क मार्ग को फिर से पुरानी वाली स्थिति में लाया जाए ताकि लोग अपने वाहनों के साथ यहां से गुजर सकें।  इस मामले में एसडीएम सोलन रोहित राठौड़ का कहना है कि जिला प्रशासन की टीम मौके पर पहुंची है और एनएचएआई के अधिकारी भी यहां पहुंचे हैं। इस समस्या के हल के लिए प्रयास किए जा रहे हैं।

You might also like