सतिंद्र सरताज के ‘सजन राजी’ पर झूमा सोलन

सोलन —राज्य स्तरीय शूलिनी मेला की तीसरी सांस्कृतिक संध्या में पंजाबी एवं हिंदी कलाकारों के नाम रही। मेले की अंतिम सांस्कृतिक संध्या में मशहूर पंजाबी सिंगर सतिंद्र सरताज एवं बालीवुड के स्टार कलाकार पूरन शिवा में अपनी गायकी से दर्शकों का दिल जीत लिया। मेले की आखिरी सांस्कृतिक संध्या में सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता व सहकारिता मंत्री डा. राजीव सहजल ने बतौर मुख्यातिथि शिरकत की जबकि प्रदेश खादी बोर्ड के उपाध्यक्ष पुरषोत्तम गुलेरिया वशिष्ट अतिथि के रूप में मौजूद रहे। उपस्थित सभी मेहमानों का जिला प्रशासन एवं मेला कमेटी की ओर भव्य स्वागत किया गया। सांस्कृतिक संध्या में पंजाबी कलाकार सतिंद्र सरताज व हिंदी सिंगर पूरन शिवा ने एक से बढ़कर एक पंजाबी एवं हिंदी गाने गाकर दर्शकों को झूमने पर मजबूर कर दिया। सतिंद्र सरताज ने अपनी एल्बम सजन राजी, मुश्ताक, तेरे वास्ते, सोए खत, बहुत सोची न, इबादत आदि के गाने गाकर दर्शकों का खूब मनोरंजन किया। इसके अलावा पूरन शिवा ने भी बालीवुड के नए एवं पुराने गानों का समा बांधा। उन्होंने भी दर्शकों के मनोरंजन में कोई कोर कसर नहीं छोड़ी। या देवी सर्वभूतेषु, मैं तेनू संमझांवां, क्या हुआ तेरा वादा, मेरे रश्के कमर, बुलेया, यारा सिली सिली, पिया रे, एना सोणा, गुलाबी आंखे, काला बाशा कौआ, यह देश है वीर, जट यमला पगला दिवाना गाने गाए।

बारिश ने किया मजा किरकिरा

सायं काल करीब पौने छह बजे मौसम ने अचानक करवट ली। इस दौरान जमकर बारिश हुई। बारिश के कारण मेले का सारा मजा किरकिरा हो गया। तेज बारिश होने के कारण मैदान में चल रही सभी ऑउटडोर गेम्ज को रोकना पड़ा। दूसरी ओर बारिश ने हजारों की संख्या में भीड़ को भी चंद मिनटों में तितर-बीतर कर दिया। गौर रहे कि मेले के दो दिन और आखिर दिन दोपहर बाद तक खूब गर्मी पड़ रही थी। लेकिन मौसम के बदले तेवरों ने मौसम मदमस्त बना दिया।

भंडारा देने वाले भी हुए परेशान

राज्य स्तरीय शूलिनी मेला के अंतिम दिन भी शहर की परिधि में अपने भंडारे लगाए गए। भंडारे का प्रसाद ग्रहण करने के लिए लोग घंटों लाइनों में खड़े रहे। लेकिन बारिश की खलबली ने इसमें भी विघन डाल दिया। इससे घंटों इंतजार कर रहे लोगों को भी बिना भंडारा खाए ही इधर-उधर भागना पड़ा।

You might also like