सफाई कर्मियों से नहीं छिनेगी नौकरियां

डोर-टू-डोर गारबेज सोसायटी के प्रतिनिधियों से बैठक के दौरान बोले यूटी महापौर

चंडीगढ़ – चंडीगढ़ शहर व गांवों में डोर-टू-डोर कचरा पृथक कर उठाने के मामले पर डोर-टू-डोर गारबेज सोसायटी के प्रतिनिधि महापौर राजेश कालिया से मिले। महापौर राजेश कालिया ने बताया कि अब उन्होंने इन नेताओं को बातचीत के लिए गुरुवार को बुलाया है। महापौर ने कहा कि आज की बैठक में उन्होंने सोसायटी के सदस्यों को आश्वस्त किया है कि किसी भी कर्मी की नौकरी नहीं छीनी जाएगी और मिल बैठकर हर समस्या का  हल निकाला जाएगा। महापौर ने कहा कि सोसायटी के कर्मी चाहें, तो अपने वाहनों से ही घरों से कचरा एकत्रित कर सकते हैं, इससे निगम को कोई एतराज नहीं होगा। अंतिम फैसला अब गुरुवार को होने वाली बैठक में लिया जाएगा। नगर निगम ने घर-घर से गीला और सूखा कचरा उठाने का काम फिर से शुरू कर दिया है। इससे पूर्व निगम गांव सारंगपुर व खुड्डा जस्सू में अपने वाहनों से घरों से कचरा एकत्र करने की योजना को शुरू कर चुका है। ज्ञात रहे कि गत वर्ष सितंबर माह में भी इन लोगों ने निगम की स्वयं घरों से अपने वाहनों में कचरा एकत्र करने की योजना के विरोध में 22 दिन की हड़ताल की थी व सारा शहर कचरे के ढ़ेर में बदल गया था। गत वर्ष दो अक्तूबर को नगर निगम बैकफुट पर आ गया था। गारबेज कलेक्टरों के साथ हुई बैठक के बाद लिखित में समझौता हुआ था। इसके बाद तत्कालीन महापौर ने वित्त एवं अनुबंध कमेटी की आपातकालीन बैठक बुलाई, जिसमें गारबेज कलेक्टरों के साथ हुए समझौते की शर्तों को पारित भी किया गया था।  इसके बाद निगम अपनी ट्रालियां वापस ले ली और गारबेज कलेक्टर पहले की तरह वापस काम पर लौट आए थे।

You might also like