समाधि लेने पर अड़ी महिला अस्पताल पहुंचाई

बिलासपुर के कल्लर में अंधविश्वास का मामला, चेकअप के बाद आईजीएमसी रैफर

नम्होल-सदर पुलिस थाना के तहत कल्लर ग्राम पंचायत क्षेत्र में एक परिवार मानसिक रूप से परेशान हो गया है। हालांकि सूचना मिलने पर सदर पुलिस की टीम ने मौके पर पहुंचकर स्थिति का जायजा लिया और बाद में समाधि लेने पर अडिग महिला सहित परिवार के अन्य सदस्यों को जिला अस्पताल बिलासपुर पहुंचाया गया, जहां उनका मेडिकल करवाया गया है। बताया जा रहा है कि यह मामला तंत्र विद्या से जुड़ा हुआ है, जिसके चलते पूरा परिवार ही परेशानी में आ गया है। पुलिस ने मेडिकल करवाया है और रिपोर्ट के बाद ही असल कारणों का पता चल सकेगा। मिली जानकारी के अनुसार कल्लर ग्राम पंचायत क्षेत्र की एक महिला ने अपने किसी गुरू द्वारा बताए गए मार्ग पर अमल करते हुए शनिवार को सुबह के 11 बजे समाधि लेने का निर्णय लिया था और समाधि लेने की हठता (जो कि इस परिवार की काल्पनिक सोच थी) जाहिर की थी तथा अपने फैसले पर अडिग थी। सूचना मिलने के बाद तत्काल सदर थाना पुलिस के प्रभारी दलबल सहित मौके पर पहुंच गए और मौके पर पाया गया कि उपरोक्त महिला व उसके परिवार के अन्य सदस्य मनोवैज्ञानिक रोग  से ग्रसित लग रहे थे। उपरोक्त महिला का चैकअप जिला अस्पताल बिलासपुर में मनोचिकित्सक के पास कराया गया।  बताया जा रहा है कि मनोचिकित्सक ने उपरोक्त महिला को आगामी उपचार के लिए आईजीएमसी शिमला के लिए रैफर किया है। यह भी पता चला है कि उपरोक्त महिला को उसके परिजन दवाई लेने के बाद जिला अस्पताल बिलासपुर से अपने घर  ले  गए हैं जिन्हें स्थानीय पुलिस ने हिदायत दी है कि उपरोक्त महिला का उपचार आईजीएमसी शिमला में करवाएं। बिलासपुर के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक अशोक कुमार ने खबर की पुष्टि की है। उन्होंने कहा कि कल्लर पंचायत क्षेत्र से एक महिला द्वारा समाधि लिए जाने की हठ किए जाने को लेकर सूचना प्राप्त हुई थी जिस पर सदर थाना प्रभारी ने पुलिस टीम संग मौके पर पहुंचकर स्थिति का जायजा लिया। हो सकता है कि पूरा ही परिवार किसी मानसिक परेशानी में हो। फिलहाल पुलिस परिवार के सदस्यों को क्षेत्रीय अस्पताल बिलासपुर में ले गई है।

पंचायत प्रतिनिधियों-लोगों की एक न सुनी

शनिवार को घर का सारा कामकाज निपटा कर अंधविश्वास में आकर एक महिला समाधि लेने पर अड़ी हुई थी, जिसे मौका पर स्थानीय पंचायत प्रधान एवं ग्रामवासी समझाते रहे, लेकिन वह समाधि लेने पर अडिग रही।  पुलिस ने मौके पर पहुंच कर स्थिति का जायजा लेने के बाद  उसे अस्पताल पहुंचाया।

You might also like