समिति की सिफारिश के बाद हो तैनाती

बिलासपुर—एम्स निर्माण समन्वय समिति कोठीपुरा बिलासपुर का एक प्रतिनिमिंडल समिति की समन्वयक बिजली महंत की अध्यक्षता में उपायुक्त राजेश्वर गोयल से मिला और उन्हें एम्स निर्माण में हो रही नियुक्तियों के बारे में अवगत करवाते हुए ज्ञापन भी सौंपा। बिजली महंत ने उपायुक्त को बताया कि एम्स निर्माण हेतु चार जून 2019 को एसडीएम कार्यालय बिलासपुर में कानूनगो, तहसीलदार व जिला प्रशासन की निगरानी में एक बैठक हुई थी, जिसमें एम्स निर्माण समन्वय समिति का गठन विभिन्न सामाजिक संगठनों जैसे अर्द्धनारेश्वर समाज सेवा समिति, हिमाचल नारी सभा, महिला मंडल नोआ, महिला मंडल चलैहली, महिला मंडल राजपुरा, मां दुर्गा टैक्सी आपरेटर यूनियन कोठीपुरा, एआईटीयूसी व कोठीपुरा व राजपुरा के पंचायत प्रतिनिधियों द्वारा मिलकर किया गया है, जिसका मुख्य उद्देश्य निर्माणाधीन प्रोजेक्ट में प्रभावित परिवारों को पुनर्वास, रोजगार एवं मुआवजा संबंधी तथा पर्यावरण को होने वाले नुकसान और इस भूमि पर आश्रित समुदायों के वन्य अधिकार को होने वाले नुकसान के आकलन के विषयों  के लिए किया गया है। बैठक में यह भी निर्णय लिया गया कि अगर कोई व्यक्ति नागार्जुन कंस्ट्रशन कंपनी एवं एम्स कार्यालय में सीधा आवेदन करता है, तो आप उसके आवेदन पत्र को समिति के पास विचार के लिए भेजेंगे और समिति की सिफारिश के बाद ही उक्त व्यक्ति की नियुक्ति की जाएगी। प्रतिनिधिमंडल सुषमा ठाकुर, अनिता शर्मा, विक्रम, भारत भूषण, धर्मपाल, रोहित, रणजीत ठाकुर, सुमन ठाकुर, महेंद्र ठाकुर, अक्षय, इशान खान, गौतम राणा, दीपक, विशाल व जितेंद्र ठाकुर सहित अन्य मौजूद रहे।

You might also like