सिद्धबाड़ी में जनमंच… 69 केस ओके

धर्मशाला—परिवहन मंत्री गोविंद सिंह ठाकुर ने रविवार को धर्मशाला विधानसभा क्षेत्र के सिद्धबाड़ी के समीप जोरावर सिंह स्टेडियम मेें जनमंच कार्यक्रम की अध्यक्षता की। इस दौरान पूर्व मंत्री एवं वर्तमान कांगड़ा-चंबा के सांसद किशन कपूर भी विशेष रूप से मौजूद रहे। प्रदेश की दूसरी राजधानी धर्मशाला की पंचायतें आज भी मूलभूत सुविधाओं की समस्याओं का समाधान किए जाने के लिए भटक रही हैं। तपोभूमि कहे जाने वाले तपोवन के पास बने जोरावर मैदान में पानी-बिजली और सड़क की समस्याओं को तपन सरकार के जनमंच तक पहुंची। हालांकि इनमें कई तपन भरे मामलों का कोई हल मिलता हुआ दिखाई दिया, जबकि अधिकतर फाइलों में खिसकते हुए नजर आए, लेकिन स्थायी समाधान के लिए अभी ओर अधिक तपन लोगों को सहने का आश्वासन दिखा। इतना ही नहीं कई पंचायतों के प्रधान भी सड़कों सहित अन्य समस्याओं को लेकर पहुंचे। जिस पर पंचायतों में बजट की उपलब्धता पर शैल्फ डालकर कार्य करने की जानकारी भी सरकार के प्रतिनिधियों ने उन्हें उपलब्ध करवाई। जनमंच कार्यक्रम में विभिन्न विभागों से जुड़े कुल 86 मामले प्रेषित हुए, जिनमें से सरकार और विभाग ने 69 का मौके पर निपटारा करने की बात कही है। शेष सभी समस्याओं का निपटारा अगले 10 दिनों के भीतर सुनिश्चित करने के लिए संबंधित विभागों को निर्देश दिए गए। कार्यक्रम में यह भी अवगत करवाया गया कि जनमंच से पूर्व की अवधि में लोगों की 33 समस्याएं प्राप्त हुईं थीं, इन सभी 33 मामलों का निवारण जनमंच दिवस से पूर्व किया जा चुका है। इसके अतिरिक्त रविवार को जनमंच कार्यक्रम के अवसर पर कुल 53 समस्याएं प्राप्त हुइर्ं, जिसमें से 26 का निपटारा मौके पर कर दिया गया। जबकि एक दर्जन से अधिक समस्याओं को सुने बिना ही जनमंच कार्यक्रम का समापन भी कर दिया गया है। जिसके कारण कई लोगों को मात्र कांगड़ी धाम का स्वाद लेकर ही निराश लौटने के लिए भी मजबूर होना पड़ा।  कार्यक्रम में क्षेत्र की 12 पंचायतों के लोगों की समस्याओं का मौके पर निपटारा किया गया। इनमें बाघनी, बरवाला, चैतडू, डगवार, झियोल, सुक्कड़, कनेड, मंदल, मनेड, सौकणी दा कोट, पंतेहड़ पासू तथा रक्कड़ पंचायतों के लोग शामिल रहे।   धर्मशाला के सिद्धबाड़ी के जोरावर सिंह स्टेडियम में जनमंच आयोजित करने के लिए कार्यक्रम में लाभान्वित हुए लोगों ने प्रदेश सरकार का आभार जताया। इस अवसर पर उपायुक्त कांगड़ा राकेश प्रजापति, डीआईजी संतोष पटियाल, एडीसी राघव शर्मा सहित विभिन्न विभागों के जिला स्तर के अधिकारी एवं पंचायती राज संस्थाओं के जन प्रतिनिधि तथा बड़ी संख्या में लोग मौजूद रहे।

लोगों का स्वास्थ्य जांचा, पौधा रोपा

जनमंच दिवस पर आयुर्वेद विभाग द्वारा आयोजित निःशुल्क चिकित्सा शिविर में 50 और स्वास्थ्य विभाग के चिकित्सा शिविर में करीब 70 लोगों की स्वास्थ्य संबंधी जांच की गई। मौके पर सार्वभौमिक स्वास्थ्य संरक्षण योजना के कार्ड और अपंगता प्रमाण पत्र भी बनाए गए। कार्यक्रम में विभागों ने स्टाल लगाकर लोगों को संबंधित सरकारी योजनाओं की जानकारी दी। परिवहन मंत्री ने नई मुहिम एक बूटा बेटी के नाम के तहत पौधा रोपा।

You might also like