सियासी सरहदें तोड़ भाजपा से जुड़ें

हिमाचल निर्माण और विकास के लिए मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर का जनता से आग्रह

शिमला— कार्यसमिति की बैठक में हिस्सा लेने के लिए होटल होलीडे होम की ओर बढ़ते मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर व पे्रम कुमार धूमल

शिमला – मुख्यमंत्री ने प्रदेश की जनता से आग्रह किया है कि वह दलीय सीमाओं से ऊपर उठते हुए भाजपा के साथ जुड़ें और प्रदेश के निर्माण व विकास में अपनी भागीदारी सुनिश्चित करें। भाजपा का सदस्यता अभियान छह जुलाई से शुरू होने वाला है और इस अभियान में भाजपा की सदस्यता ग्रहण कर राज्य व केंद्र सरकार को मजबूत करें। पार्टी की दो दिवसीय  कार्यसमिति की बैठक के अंतिम दिन सीएम जयराम ठाकुर ने कहा कि लोकसभा चुनावों में भाजपा को मिली जीत अब गौरवमयी इतिहास बन गई है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में देश भर में मिली इस शानदार जीत की जब भी चर्चा होगी, तो हिमाचल का जिक्र भी जरूर आएगा। जयराम ठाकुर ने कहा कि छोटे से प्रदेश के लिए अत्यंत गौरव की बात है कि भारत ही नहीं, बल्कि दुनिया के सबसे बड़े संगठन भाजपा के कार्यकारी अध्यक्ष बनने का गौरव जेपी नड्डा को मिला, जिनकी कर्मस्थली हिमाचल रही है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में देश में एक सशक्त और निर्णायक सरकार का पुनर्गठन हुआ है। यह अत्यंत प्रसन्नता और सौभाग्य की बात है कि इस मजबूत सरकार में अनुराग ठाकुर को केंद्रीय वित्त राज्य मंत्री के रूप में सशक्त भागीदारी प्राप्त हुई है।

भाजपा एक सामाजिक संगठन

मुख्यमंत्री ने कहा कि भाजपा राजनीतिक दल होने के साथ-साथ एक सामाजिक संगठन भी है। ऐसे में मात्र चुनावों में विजय प्राप्त करना ही भाजपा का लक्ष्य नहीं है, बल्कि जनता की आशाओं और आकांक्षाओं पर खरा उतरते हुए भारत को परम वैभव की स्थिति पर ले जाना ही अंतिम लक्ष्य है।

भाजपा का अगला टारगेट मिशन-2022

कार्यसमिति की बैठक में धर्मशाला-पच्छाद उपचुनाव जीतने का संकल्प

शिमला – लोकसभा चुनाव जीतने के बाद अब प्रदेश भाजपा का अगला टारगेट मिशन-2022 है। शिमला में दो दिन तक चली प्रदेश कार्यसमिति की बैठक के अंतिम दिन हिमाचल में होने वाले आगामी विधानसभा चुनावों को लेकर रणनीति बनाई गई। गुरुवार सुबह नौ बजे से शुरू हुई बैठक में 2022 के विधानसभा चुनाव से पहले प्रदेश में अधिक से अधिक सदस्य पार्टी में शामिल करने पर मंथन हुआ। इसके साथ धर्मशाला और पच्छाद में होने वाले उपचुनाव पर चर्चा की गई। बैठक की अध्यक्षता प्रदेशाध्यक्ष सतपाल सत्ती ने की, जबकि मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर और पूर्व मुख्यमंत्री प्रेम कुमार धूमल ने पदाधिकारियों को एकजुटता का पाठ पढ़ाया। इस दौरान मुख्यमंत्री ने कहा कि दो दिवसीय बैठक का मुख्य उद्देश्य गत लोकसभा चुनावों की समीक्षा व भाजपा के सदस्यता अभियान, जिसे संगठन पर्व सदस्यता अभियान-2019 का नाम दिया है, को सुचारू रूप से चलाने के लिए कार्ययोजना को अंतिम रूप देना है। भाजपा ने इस बार गत अभियान की तुलना में 20 प्रतिशत वृद्धि का लक्ष्य रखा है। आने वाले दिनों में धर्मशाला और पच्छाद विधानसभा क्षेत्र में होने वाले उपचुनाव में भी भाजपा जीत दर्ज करेगी। पदाधिकारियों को संबोधित करते हुए प्रेम कुमार धूमल ने कहा कि प्रदेश में मिली शानदार जीत के लिए मुख्यमंत्री और भाजपा संगठन बधाई के पात्र हैं, जिनके नेतृत्व में भाजपा को यह प्रचंड विजय हासिल हुई है। उन्होंने कार्यकर्ताओं को नसीहत देते हुए कहा कि ऊंचाई पर पहुंचना आसान है, परंतु ऊंचाई पर बने रहने के लिए मेहनत की आवश्यकता होती है और आज यही स्थिति भाजपा की भी है। इसलिए कार्यकर्ता और नेतृत्व को चाहिए कि वह जनता की आशाओं पर खरा उतरे।

जीत से संतुष्ट होने की जरूरत नहीं

प्रदेशाध्यक्ष सतपाल सत्ती ने कार्यकर्ताओं से आग्रह किया कि लोकसभा में मिली भारी जीत से संतुष्ट होने की आवश्यकता नहीं है। भाजपा का आगामी लक्ष्य उपचुनाव है और इसके लिए मेहनत करने की आवश्यकता है।

संगठन और वर्कर्ज पार्टी की रीढ़

भाजपा सदस्यता अभियान के राष्ट्रीय सहप्रभारी दुष्यंत गौतम ने कहा कि वह भाजपा की रीढ़ उसका संगठन और कार्यकर्ता हैं। भाजपा के लिए सदस्यता अभियान मात्र एक कार्य न होकर एक पर्व है।

You might also like