सैलानियों के लिए रोहतांग बहाल

छह महीने बाद हो पाए दीदार

पहले दिन 5000 ने उठाया लुत्फ

दर्रा खुलने से कारोबारी भी खुश

मनाली -विश्व प्रसिद्ध रोहतांग दर्रा शनिवार को सैलानियों के लिए बहाल कर दिया गया। छह माह बाद रोहतांग के जहां पर्यटकों को दीदार हुए, वहीं पहले ही दिन 1300 वाहनों में करीब पांच हजार पर्यटक रोहतांग पहुंचे और यहां की खूबसूरत वादियों को कैमरों में कैद किया। दर्रे पर जहां अभी भी बर्फ की मोटी चादर बिछी हुई है, वहीं जून माह में  बर्फ को देख सैलानी खासे खुश दिखे। सैलानियों ने शनिवार को जहां रोहतांग दर्रे पर बर्फ के बीच जमकर मौज-मस्ती की,   दर्रा बहाल होने के बाद पर्यटन करोबारी भी खासे खुश दिखे। 13050 हजार फुट की ऊंचाई पर स्थित रोहतांग दर्रा इस बार बर्फ से पूरी तरह पैक है। ऐसे में देश-विदेश से रोहतांग के दीदार के लिए मनाली पहुंच रहे सैलानी दर्रे की सैर करने के लिए खासे उत्साहित हैं। जून माह में जहां देश के मैदानी क्षेत्र गर्मी से तप रहे हैं, वहीं रोहतांग दर्रे पर तापमान माइन्स डिग्री पर चल रहा है। ऐसे में रोहतांग पहुंच कर सैलानी यहां के ठंडे मौसम का जमकर लुत्फ उठा रहे हैं। पहले ही दिन रोहतांग दर्रे पर जाने के लिए शनिवार सुबह ही हजारों की संख्या में सैलानी जहां मनाली से रोहतांग के लिए रवाना हुए, वहीं प्रशासन ने रोहतांग जाने के लिए विशेष ट्रैफिक प्लान भी तैयार किया है। दर्रे की तरफ वाहनों को नए टाइम टेबल के अधार पर ही भेजा जा रहा है। मनाली-रोहतांग सड़क पर ट्रैफिक जाम न लगे, इसके लिए मनाली से कोकसर तक सड़क को वन वे घोषित किया गया है। ऐसे में दर्रे पर होने वाली वाहनों की आवाजाही पर पुलिस प्रशासन की भी विशेष नजर रहेगी। छह माह बाद रोहतांग दर्रा सैलानियों के लिए बहाल होते ही मनाली के पर्यटन करोबार ने जहां रफ्तार पकड़ ली है, वहीं करोबारियों को उम्मीद है कि आने वाले दिनों में मनाली सैलानियों से पैक हो जाएगा। पहले ही दिन जहां दर्रे पर पांच हजार पर्यटकों के पहुंचने से दर्रा सैलानियों से गुलजार हो गया, वहीं, पर्यटन करोबार से जुड़े लोग भी खासे खुश दिखे। यहां बता दें कि पहले ही दिन जहां रोहतांग दर्रे पर हजारों सैलानी पहुंचे, वहीं मनाली से मढ़ी तक ट्रैफिक जाम भी देखने को मिला।

समर सीजन के लिए 300 जवान तैनात

मनाली में समर सीजन के रफ्तार पकड़ते ही पुलिस प्रशासन ने 300 जवानों को मनाली के विभिन्न स्थलों पर तैनात किया गाया है। करीब 100 से अधिक जवान जहां मनाली से रोहतांग के रास्ते पर तैनात किए गए हैं, इन जवानों के कंधों पर दर्रे के ट्रैफिक को संभालने की जिम्मेदारी दी गई है। पुलिस कप्तान शालिनी अग्निहोत्री का कहना है कि मनाली में समर सीजन शुरू हो गया है। शनिवार से सैलानियों की आवाजाही भी रोहतांग के लिए बहाल कर दी गई है। उन्होंने बताया कि मनाली से राहतांग दर्रे तक सीजन के दौरान ट्रैफिक व्यवस्था बनाए रखना पुलिस के लिए किसी चुनौती से कम नहीं है। इससे निपटने के लिए पुलिस ने मास्टर प्लान भी तैयार किया है। उन्होंने बताया कि रोहतांग दर्रे पर वाहनों के आने जाने के लिए जहां नया टाइम टेबल बनाया गया है, वहीं पुलिस व होमगार्ड के जवानों को भी तैनात किया गया है। उन्होंने बताया कि मनाली से रोहतांग दर्रे तक के रास्ते पर ट्रैफिक पुलिस के जवान जहां दिन भर गश्त पर रहेंगे, वहीं पुलिस जवानों को  कैमरों से भी लैस किया गया है। इसके अलावा बाइक पर भी पुलिस जवान सड़क की रैकी दिन भर करते रहेंगे।

You might also like