सोनिया बनीं प्रिंसेस सूत्रधार

कुल्लू—ऐतिहासिक लाल चंद प्रार्थी कलाकेंद्र में सूत्रधार कलासंगम संस्थान ने अपना 42वां सूत्रधार वर्षगांठ उत्सव धूमधाम से मनाया। उत्सव 21 से 23 जून तक आयोजित किया गया। उत्सव में विभिन्न स्कूलों के बच्चों ने अपनी प्रस्तुतियां दी। सूत्रधार कलासंगम संस्था के अध्यक्ष दिनेश सेन ने बताया कि कार्यक्रम में इंद्रो देवी, डा. धनेश्वरी शर्मा, डा. निशा शर्मा, तनुजा वर्मा, चंद्रमोहन कपूर, अश्वनी शर्मा, विद्या सागर शर्मा, राजेश गुलेरिया और सुमित चौहान ने निर्णायक मंडल की भूमिका निभाई। उन्होंने बताया कि लोकगीत प्रतियोगिता में कैंब्रिज इंटरनेशनल स्कूल मौहल के छात्र धु्रव कृष्ण ने प्रथम स्थान हासिल किया। जबकि दूसरे स्थान पर नेशनल एसोसिएशन फॉर ब्लाइंड कुल्लू की सृष्टि रही। जबकि कन्या वरिष्ठ माध्यमिक स्कूल सुल्तानपुर स्कूल की अंजना व कोमल भारतीय तीसरे स्थान पर रहीं। इसके अलावा फिल्मी गीत प्रतियोगिता में कन्या वरिष्ठ माध्यमिक स्कूल सुल्तानपुर स्कूल की अर्पिता ठाकुर प्रथम, देहली पब्लिक स्कूल मनाली का देव दूसरे और राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक स्कूल छात्र ढालुपुर स्कूल का क्षितिज तीसरे स्थान पर रहा। समूह गान में प्रथम भारत-भारतीय स्कूल कुल्लू रहा। स्कूल मनाली दूसरे और तीसरे स्थान पर कैंब्रिज इंटरनेशनल स्कूल मौहल रहा। वाद्यवंृद में कैंब्रिज इंटरनेशनल स्कूल मौहल प्रथम, मैक्स इंटरनेशनल स्कूल जिया दूसरे और राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक स्कूल ढालपुर तीसरे स्थान पर रहा। लघुनाटक में भारत-भारती स्कूल प्रथम, कन्या स्कूल सुल्तानपुर दूसरे और मैक्स स्कूल जिया तीसरे स्थान पर रहा। फैशन शो में देहली स्कूल मनाली प्रथम, पीडी मेमोरियल एंगलोे वैदिक स्कूल कोलीबेहड़़ दूसरे और अकादमी हिल्स पब्लिक स्कूल वर्कशाप गदौरी रोड़ तीसरे स्थान पर रहा। समूह नृत्य में कैंब्रिज प्रथम, भारत-भारती दूसरे और मैक्स इंटरनेशनल स्कूल मनाली ने तीसरा स्थान हासिल किया। लोकनृत्य प्रतियोगिता में प्रथम केडी स्टार स्कूल बाशिंग प्रथम, दूसरे स्थान सुल्तानपुर स्कूल और देहली पब्लिक स्कूल मनाली तीसरे स्थान पर रहा। प्रिंसेस सूत्रधार प्रतियोगिता में केडी स्टार वरिष्ठ माध्यमिक स्कूल बाशिंग की सोनिया प्रिंसेस सूूत्रधार का खिताब जीता। फर्स्ट रनरअप सुल्तानपुर स्कूल की शाइना रही। जबकि सेकेंड रनरअप भारत-भारती स्कूल ढालपुर कुल्लू की उरविशा रही।

You might also like