सोलन शहर में झमाझम बरसे मेघ

सोलन—सोलन शहर में रविवार शाम बारिश होने के बाद सोमवार को भी दिन में झमाझम मेघ बरसे हैं। बारिश होने से तापमान में भी गिरावट आई है। सोमवार को सोलन सहित आसपास के क्षेत्रों में साढ़े बारह बजे तेज बारिश का सिलसिला जारी हुआ और यह सिलसिला लगभग तीन घंटे तक चलता रहा। अचानक बारिश शुरू होने से जहां एक तरफ  गर्मी से राहत मिली है वहीं मौसम में पिछले कई दिनों से बढ़ रहे तापमान से भी लोगों को छुटकारा मिला है। हालांकि आधे दिन में लगी तेज बारिश से राहगीरों को परेशानी का सामना करना पड़ा है, वहीं मालरोड पर सजी रेहडी़-फड़ी वालों का सामान भी बारिश में खराब हुआ है। गौरतलब हो कि रविवार को मां शूलिनी मेला का समापन हुआ है। मेला होने के चलते शहर में बाहरी राज्यों से आए रेहड़ी-फड़ी वालों ने अपना डेरा सोमवार को भी जमाए रखा लेकिन दोपहर को अचानक तेज बारिश के कारण इन रेहड़ी-फड़ी वालों को आनन-फानन में समान इधर-उधर रखना पड़ा। बता दंे कि रविवार को भी दिन में तेज बारिश होने से इसी प्रकार का नजारा देखने को मिला था। शहर में सजी रेहड़ी-फड़ी वालों को परेशानी हुई थी और कई लोगों का सामान भी खराब हुआ था।

किसानों को बारिश से मिलेगा फायदा

इन दिनों बारिश का होना किसान भाइयों के लिए किसी वरदान से कम नहीं है। पिछले कई दिनों से सूर्य देव का प्रकोप झेल रहे किसानों के चेहरों पर बारिश को देखकर रौनक छा गई है। बता दें कि इन दिनों किसानों को अपनी फसलों को बारिश की ज्यादा जरूरत पड़ती है।

हाई-वे पर गिरा डंगा

कालका-शिमला नेशनल हाई-वे पांच पर धर्मपुर के समीप फिर डंगा गिरने का मामला सामने आया है। हालांकि इस दौरान गनीमत यह रही कि कोई वाहन हाई-वे से नहीं गुजर रहा था। बताया जा रहा है कि यह डंगा कुछ ही दिन पहले लगाया गया था जो कि सोमवार को हुई बारिश को सहन नहीं कर पाया। बता दे कि पिछली बार बारिश होने के बाद हाई-वे पर डंगे गिरने का मामले सामने आए हैं लेकिन इस बार बरसात से पहले इस प्रकार के मामले सामने आ रहे हैं।

You might also like