स्कूल प्रबंधन के खिलाफ उतरे पेरेंट्स

सोलन—शहर के एमआरए डीएवी स्कूल के अभिभावकों ने बच्चों को स्कूल से बायकॉट करने का मूड बना लिया है। इसके पीछे कारण यह है कि अभिभावकों को अभी तक न तो स्कूल प्रशासन से कोई संतोषजनक उत्तर मिला है और न ही शिक्षा विभाग से। इसको लेकर निजी स्कूलों में फीस वृद्धि को लेकर एक बार फिर अभिभावकों का गुस्सा फूटता नजर आ रहा है और स्कूल के खिलाफ  मोर्चा खोल दिया है। रविवार को फिर पर एमआरए डीएवी स्कूल सोलन के अभिभावक शहर के चिल्ड्रन पार्क में एकत्रित हुए और आगामी रणनीति तैयार की। इस दौरान अभिभावको ने स्कूल के खिलाफ आंदोलन करने की चेतावनी दी है। गौरतलब हो कि पिछले दिनों फीस वृद्धि को लेकर लोगों ने मोर्चा खोल दिया था। स्कूलों के सैकड़ों अभिभावकों ने स्कूल में बढ़ाई फीस और अन्य फैसलों का पुरजोर विरोध किया। अभिभावकों का कहना था कि उनके बच्चों को मिलने वाली सुविधाओं के नाम पर पैसे वसूल करते हैं जो सुविधाएं छात्रों को दी ही नहीं जा रहीं। वहीं, बच्चों के लिए एक ही दुकान से वदीज़् और किताबें खरीदने के लिए भी अभिभावकों को मजबूर किया जाता है। इसका सभी अभिभावक विरोध करते हैं। इसको लेकर अभिभावकों ने जिला उपायुक्त को भी ज्ञापन सौंपा था जिसके बाद डिप्टी डायरेक्टर को इस मामले की कार्रवाई करने बारे कहा था, लेकिन अभिभावकों को विभाग की ओर से कोई प्रतिक्रिया नहीं मिली है। वहीं, इसमें सभी अभिभावकों से स्कूल में पेश आ रही समस्याओं को लेकर शिकायतें भी दर्ज की गई हैं ताकि जल्द ही इनका समाधान किया जा सके। अभिभावकोंका कहनाा है कि इस प्रकार कुछ नहीं हुआ है । परंतु अब फीस वृद्धि को लेकर अभिभावकों ने उग्र आंदोलन का मूड बना लिया है। इसके बाबजूद यदि स्कूल प्रशासन न माना तो न्यायालय का दरवाजा खटखटाने के बारे भी कहा है। अभिभावको का कहना है कि मनमाने तरीके से बढ़ाई गई फीस को लेकर अब वह चुप बैठने वाले नहीं है। आगामी छुट्टियों के बाद वह अपने आंदोलन को तेज करेंगे और बढ़ाई गई फीस को वापस नहीं लिया गया, तो वह आंदोलन के रूप में अपना विरोध आगे बढ़ाएंगे। स्कूल प्रशासन के भेदराम ने कहा कि हमारे पास इस प्रकार की कोई जानकारी नहीं है। अभिभावकों को इस प्रकार नहीं करना चाहिए। 

You might also like