स्पीलो में पति ने जिंदा जलाई पत्नी

 मिट्टी का तेल छिड़क कर लगा दी आग, पीजीआई में मौत, पुलिस ने मामला दर्ज कर शुरू की छानबीन

सांगला –किन्नौर जिला के पुह खंड के स्पीलों में एक महिला को मिट्टी तेल से जलाकर मौत के घाट उतारने का मामला सामने आया है। प्राप्त जानकारी के मुताबिक मृतक महिला का भाई राजू गांव कोछडी, डाकघर ज्युरी तहसील रामपुर जिला शिमला ने आरोप लगाते हुए बताया कि उसकी बहन संतोषी 25 वर्ष जिसकी शादी 2014 में किन्नौर के निचार खंड के काचे गांव रहने वाले के साथ हुई थी शादी के बाद से दोनो के बीच लड़ाई झगड़ा होता रहता था। पिछले पांच वर्षों से चल रहीं लड़ाई 28 मई के रात को स्पीलो में उक्त व्यक्ति के क्वाटर में मौत में तबदील हुई जब बहस हद से ज्याद हो गया तो उक्त मृतिका के पति ने मिट्टी के तेल से पूरी तरह जला दिया। इसके बाद मृतिका का पति अपने स्तर पर जिला मुख्यालय रिकांगपिओं में प्राथमिक उपचार के लिए पहंुचाया जहां पर महिला 80 फीसदी जल चुकी थी। पति ने महिला के परिजनों को सूचित किए बगैर शिमला व शिमला से पीजीआई के लिए रैफर किया गया पीजीआई में उपचार के दौरान महिला की चार जून को मौत हो गई । मृतिका का पिता विकास, मां अनू देवी व भाई राजू व रवी ने सरकार, जिला प्रशासन व पुलिस प्रशासन से मृतिका के पति के खिलाफ  कार्र्रवाई की जाने की मांग की है। उन्होंने बताया कि पुलिस प्रशासन को मामले की गंभीरता से लिया जाना चाहिए था न कि बयान दर्ज कर कन्नी काटना चाहिए। पुलिस ने बयान दर्ज किया है मर्डर के हिसाब से कार्रवाई नहीं की है। उधर इस बार एसपी किन्नौर साक्षी वर्मा ने बताया कि इसकी जानकारी मृतिका के पति ने लड़की के क्रिमिनेेशन के बाद दी थी बावजुद इसके भी पुलिस ने परिजनो के कहने पर जुन्गा से पुलिस की टीम को बुलाई हैं पुलिस इस मामले को गहनता के साथ छानबीन करने में जुटी हैं जांच की जाएगी, ताकि उन्हे न्याय मिल सके ।

 

 

You might also like