स्यांज में जुबली मेले की धूम

 माता शैलपुत्री के सम्मान में सजा मेला; चार दिन तक होगा आयोजन

गोहर, स्यांज -गंदम की कटाई व मक्की की बीजाई के बाद फुर्सत के दिनों में गोहर क्षेत्र के स्यांज में आयोजित किए जाने वाले चार दिवसीय जुबली मेले का मंगलवार से आरंभ हो गया। क्षेत्र की प्रसिद्ध व हजारों लोगों की आस्था का प्रतिक माता शैलपुत्री मंदिर के प्रांगण में आरंभ होने यह मेला चार से सात जून तक बड़े हर्षोल्लास के साथ मनाया जाता है। इस मेले के शुभारंभ अवसर पर जिला परिषद सदस्य हुकमा देवी ने बतौर मुख्यातिथि शिरकत की। मेले के समापन्न समारोह की अध्यक्षता स्थानीय विधायक विनोद कुमार करेंगे। स्यांज पंचायत के सौजन्य से आयोजित किए जाने वाले इस चार दिवसीय मेले में स्यांज, छपराहण, नांडी, बाड़ा, सरोआ, बस्सी सहित साथ लगते कई गांव के लोग पारंपारिक वेशभूषा में भाग लेते हैं। स्थानीय पंचायत क्षेत्र के लोगों के मनोरंजन हेतु मेले के दौरान वालीबाल, कबड्डी जैसी खेलों सहित सांस्कृतिक कार्यक्रमों का भी आयोजन करती है, जिसमें लोक संपर्क विभाग के कलाकारों का बहुत योगदान रहता है। स्थानीय पंचायत के उपप्रधान जीवानंद का कहना है कि बुधवार से इन कलाकारों को जुबली मेले में कार्यक्रम प्रस्तुत करने हेतु निमंत्रण दिया गया है। उन्होंने कहा कि लोग इस जुबली मेले में अपनी आवश्यकता के अनुसार साल भर के लिए विभिन्न वस्तुओं की खरीददारी करते हैं। मेले में स्थानीय दुकानदारों सहित बाहर के व्यापारी भी अपने स्टाल लगाते हैं। उन्होंने कहा कि मेले के दौरान कानून-व्यवस्था बनाए रखने में स्थानीय प्रशासन व पुलिस का पंचायत को बेहतर सहयोग मिलता रहा है।

You might also like