हरिकेश मीणा ने संभाला डीसी हमीरपुर का कार्यभार

शहर को अतिक्रमण से मुक्त करवाने की रहेगी प्राथमिकता, सड़क-स्वास्थ्य-शिक्षा के साथ-साथ खेल के क्षेत्र को भी आगे ले जाने पर रहेगा मुख्य ध्येय

सुशासन की डगर

नाम        —  हरिकेश मीणा

आईएएस  —   अधिकारी        बैच  वर्ष  —  2012

निवासी   —  राजस्थान

हमीरपुर –पहले आईएएस आफिसर राकेश प्रजापति फिर डा. ऋचा वर्मा और अब हरिकेश मीणा हमीरपुर जिला के डीसी बने। मजेदार बात यह है कि ये तीनों ही आईएएस आफिसर 2012 बैच के हैं। हां ये अलग बात है कि राकेश प्रजापति और डा. ऋचा वर्मा द्वारा जिला हमीरपुर में दी गई सेवाओं की अवधि में भारी अंतर रहा। अपने दंबगई और ईमानदार स्वभाव के प्रसिद्ध राकेश प्रजापति को तो हमीरपुर की जनता तीन महीने भी बर्दाश्त नहीं कर पाई थी, क्योंकि उन्होंने जो प्लान हमीरपुर शहर की खूबसूरती के लिए तैयार किया था, वो यहां के व्यापारियों को पसंद नहीं था, क्योंकि उससे उन्हें अपने हित साधते नजर नहीं आ रहे थे। हां, आम आदमी ने काफी राहत महसूस की थी। आखिर तीसरे महीने ही उनका हमीरपुर से ऊना तबादला करवा दिया गया। उनके बाद डा. ऋचा वर्मा को डीसी हमीरपुर लगाया गया। उन्होंने लगभग एक साल हमीरपुर में सेवाएं दीं। डा. वर्मा ने हमीरपुर में सफाई व्यवस्था, बेटियों के उत्थान और महिला सशक्तिकरण की दिशा में काफी कदम उठाए थे, लेकिन हमीरपुर की जनता के साथ तालमेल बिठाने में कहीं न कहीं वह उतनी सफल नहीं हो पाईं।  यूं कहें कि एक कम्युनिकेशन का गैप पब्लिक और उनके बीच रहा। अब हरिकेश मीणा ने हमीरपुर में बतौर डीसी ज्वाइन किया है। वह इससे पहले जिला चंबा में डीसी तैनात थे। राजस्थान से ताल्लुक रखने वाले हरिकेश मीणा 2012 बैच के आईएएस अधिकारी हैं। वह  आईपीएच और पीडब्ल्यूडी के विशेष सचिव के पद पर भी अपनी सेवाएं दे चुके है।

सरकारी योजनाओें को लागू करने पर रहेगा फोकस

डीसी का पदभार संभालते ही उन्होंने कहा कि उनका मेन फोकस सरकार की योजनाओं को लागू करना रहेगा। उन्होंने कहा कि शहर का सौंदर्यीकरण कर शहर को अतिक्रमणकारियों से मुक्त करना उनकी प्राथमिकता रहेगी। इसके अलावा सड़क और स्वास्थ्य शिक्षा के अलावा खेल के क्षेत्र में जिला का विकास करना उनका मुख्य ध्येय है। डीसी साहब अच्छी सोच के साथ हमीरपुर की सेवा करने आए हैं अब देखना यह है कि यहां की जनता की उम्मीदों पर वे कब तक और कितना खरा उतर पाते हैं।

 

You might also like