हरिपुरधार से चार घंटे में नौहराधार पहुंचे मैराथनर सुनील शर्मा

नौहराधार—गुरबत से जूझ रही पांच जिंदगियां बचाने के लिए धावक सुनील शर्मा गुरुवार को करीब 200 किलोमीटर लंबी मैराथन दौड़ लगाकर नौहराधार पहुंचे। 35 किलोमीटर हरिपुरधार से नौहराधार का सफर सुनील ने मात्र चार घंटे में तय किया। नौहराधार पहुंचने पर इनका लोगों ने फूलमालाओं से जोरदार स्वागत किया व खुलकर लोगों ने चंदा दिया। तीन जून को त्रिलोकपुर से वाया पांवटा से शिलाई रोनहाट होते हुए हरिपुरधार, नौहराधार पहुंचे। अब यह राजगढ़, सोलन, नैनाटिक्कर, सराहां होते हुए वापस नाहन पहुंचेंगे। नाहन पहुंचने पर उनका भव्य स्वागत होगा। गुरुवार को सुनील व इनकी टीम राजगढ़ में रात्रि विश्राम करेगी। सुनील शर्मा का मकसद है कि मैराथन से जुटाए जाने वाले पैसे से वह पांच लोगों का जीवन संवारेंगे। सुनील पहले भी ऐसी चैरिटी रन कर कई लोगों की मदद कर चुके हैं। अभी विगत एक माह पूर्व किडनी मरीज 14 वर्षीय उर्मिला के लिए पैरा एथलीट वीरेंद्र सिंह के साथ चैरिटी रन से उन लोगों ने करीब अढ़ाई लाख की धनराशि एकत्रित की थी। अभी भी वीरेंद्र सिंह इनके साथ चैरिटी में सहयोग कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि अब दो और बीमार लोगों की सूचना मिली है उनके लिए भी वह चंदा इकट्ठा करेंगे। उन्होंने कहा कि अभी तक करीब उनके पास पांच लाख तक चंदा इकट्ठा हो चुका है। नौ जून तक 500 किलोमीटर चैरिन रन-3 खत्म कर हमारा लक्ष्य नाहन पहुंचने का है। नाहन में एक सांस्कृतिक कार्यक्रम होगा जिसमें हिमाचली कलाकार कुलदीप शर्मा, एसडी शर्मा, एचडी ब्रदर्स आदि भी कार्यक्रम में चंदा इकट्ठा करेंगे। बता दें कि सुनील शर्मा लगातार सात दिन तक जिला सिरमौर के पहाड़ नापेंगे व चंदा इकट्ठा कर बीमार लोगों की मदद करेंगे। जिन पांच जिंदगियों के लिए यह चैरिटी रन शुरू की है उनमें दो किडनी पेशेंट व दो दिव्यांग व एक असहाय बुजुर्ग है। गर्मी की तपिश व बीच-बीच में बारिश के दौर की चिंता न करते हुए सुनील शर्मा दौड़ते जा रहे हैं। वह असहाय लोगों के लिए सच में खूब पसीना बहा रहे हैं। सुनील शर्मा ने बताया कि हर क्षेत्र में उन्हें लोगों से भरपूर सहयोग मिल रहा है। लोगों से मिल रहे सहयोग से उसे खूब ऊर्जा मिल रही है। उन्होंने कहा कि क्षेत्र के स्कूली बच्चे जिला प्रशासन से लेकर व्यापारी यहां तक कि किसान व मजदूरों का भरपूर सहयोग मिल रहा है, मगर बड़े सेलिब्रिटी लोग इस पुनीत कार्य मंे सहयोग नहीं कर रहे हैं जो कि दुख का विषय है। सुनील ने लोगों से आह्वान किया कि प्रधानमंत्री आयुष्मान भारत योजना को हर घर तक पहुंचाएं, ताकि सभी लोग इस योजना से लाभान्वित हो सके। जानकारी के अभाव के चलते कई दुर्गम क्षेत्रों के ग्रामीण इस योजना से वंचित हैं। कई लोगों को इस योजना का अभी तक लाभ नहीं मिल पाया है।

You might also like