हरियाणा के बरवाला में पकड़ा भगोड़ा

बिलासपुर—बिलासपुर पुलिस के पीओ सैल ने पिछले डेढ़ साल से फरार चल रहे एक उद्घोषित अपराधी को पकड़ने में सफलता प्राप्त की है। अपराधी की गिरफ्तारी हरियाणा के बरवाला से की गई है। पुलिस ने आगामी कार्रवाई शुरू कर दी है। जानकारी के अनुसार पकड़े गए उद्घोषित अपराधी तरसेम लाल निवासी नुरपुर बेदियां तहसील आनंदपुर साहिब-पंजाब के विरुद्ध लापरवाही व तेजरफ्तारी से ट्रक चलाकर दुर्घटना करने का मामला पुलिस थाना सदर में 18 जून, 2007 को दर्ज हुआ था। यह मामला बबलू कुमार निवासी डिडाला जिला मेयु-उत्तर प्रदेश की शिकायत पर दर्ज हुआ था। अपने बयान मंे बबलू कुमार ने कहा था कि वह अपने दोस्तों के साथ  गाड़ी में बैठकर मनाली जा रहा था। इस गाड़ी को गाड़ी का मालिक वेद प्रकाश चला रहा था। बबलू कुमार ने कहा था कि जब गाड़ी गंभरपुल से थोड़ा आगे पहुंची तो तेज रफ्तार से गलत दिशा से आ रहे एक ट्रक ने गाड़ी को टक्कर मार दी और करीब 50 फीट आगे जाकर ट्रक पलट  गया, जिस कारण इस ट्रक के पीछे चल रही कार भी इससे टकरा गई। यह दुर्घटना ट्रक चालक की लापरवाही से हुआ था। इस दुर्घटना में गाड़ी में बैठी सवारियों व ट्रक परिचालक को चोटें लगी थीं। पुलिस ने ट्रक चालक के विरुद्ध मामला दर्ज कर चालान न्यायालय में पेश किया, लेकिन न्यायालय द्वारा बार-बार सम्मन जारी करने के बाद भी आरोपी न्यायालय में पेश नहीं हुआ। इस पर न्यायालय ने आरोपी ट्रक चालक को 28 अक्तूबर, 2017 को उद्घोषित अपराधी करार दे दिया। मामला पुलिस के पीओ सैल के पास पहुंचा। इस पर पीओ सैल के प्रभारी दौलत राम ने अपने टीम के सदस्यों राकेश कुमार व राज कुमार के साथ मिलकर आरोपी के संभावित ठिकानों चंडीगढ़ व बरवाला में दबिश दी, लेकिन कामयाबी नहीं मिली। पीओ सैल ने अपने मुखबिर भी लगा रखे थे। मुखबिरों से सूचना मिलने के बाद टीम ने सात जून को बरवाला में दबिश दी और उद्घोषित अपराधी को गिरफ्तार किया। उधर, बिलासपुर के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक अशोक कुमार ने बताया कि पीओ सैल की टीम ने उदघोषित अपराधी को आगामी कार्रवाई के लिए सदर पुलिस के हवाले कर दिया है।

You might also like