हांडाखुंडी में काऊ सेंक्चुरी का जल्द पूरा होगा निर्माण

नालागढ़—नालागढ़ उपमंडल के हांडाखुंडी में गोवंश के संरक्षण के लिए 114 बीघा भूमि पर बन रही काऊ सेंक्चुरी का निर्माण कार्य आरंभ हो गया है। 2 करोड़ 97 लाख की लागत से बनने वाली इस काऊ सेंक्चुरी का निर्माण कार्य एचपीएसआईडीसी द्वारा किया जा रहा है। चरणबद्ध तरीके से होने वाले सेंक्चुरी के काम को एक वर्ष से पहले पूरी तरह से मुकम्मल कर दिया जाएगा। पशुपालन विभाग द्वारा एचपीएसआईडीसी को उक्त राशि की आधी धनराशि दे दी गई है और एचपीएसआईडीसी द्वारा भी चरणबद्ध तरीके से टेंडर लगाकर इसके निर्माण का काम आरंभ हो गया है। काऊ सेंक्चुरी की कैंटोरिंग और फेंसिंग का काम चला हुआ है, जबकि जल्द ही तूड़ी वाले स्टाल के टेंडर अवार्ड होंगे। इसके उपरांत भवनों के निर्माण सहित अन्य कामों के भी टेंडर लगाए जाएंगे। जानकारी के अनुसार सभी सुविधाओं से लैस काऊ सेंक्चुरी का निर्माण कार्य आरंभ हो गया है। सेंक्चुरी के बनने से जहां आवारा पशुओं की समस्या का पूरी तरह से समाधान होगा, वहीं गोवंश को भी सुरक्षित स्थान विचरण करने के लिए मिलेगा और क्षेत्र के लोगों को भी खुले में घूम रहे गोवंश से झेलने वाली परेशानियों से भी निजात मिलेगी।  नालागढ़ उपमंडल के हांडाखुंडी में कंसंबोवाल के समीप ही 114 बीघा सरकारी भूमि पर गो अभ्यारण का निर्माण किया जा रहा है, जहां पर गोवंश का संरक्षण होगा। पशुपालन विभाग के निदेशक स्वदेश कुमार चौधरी ने कहा कि विभाग द्वारा इसकी राशि उपनिदेशक सोलन को जारी कर दी है। सहायक उपनिदेशक डा. सुशील नेगी ने कहा कि 50 फीसदी धनराशि एचपीएसआईडीसी को रिलीज की जा चुकी है। उधर, एचपीएसआईडीसी के एक्सईएन मोहिंद्र जरयाल ने कहा कि पशुपालन विभाग से धनराशि मिलने के उपरांत इसके निर्माण के टेंडर लगाए गए हैं। उन्होंने कहा कि चरणबद्ध तरीके से टेंडर लगाए जा रहे है और इसका काम आरंभ कर दिया गया हैं और एक वर्ष के भीतर काऊ सेंक्चुरी का पूरी तरह से निर्माण कर लिया जाएगा।

You might also like