हिमाचल ने सेना को दिए 21 अफसर

भारतीय सैन्य अकादमी देहरादून से पासआउट, देश को मिले 459 जांबाज

देहरादून – भारतीय सैन्य अकादमी देहरादून (आईएमए) से पासआउट होकर हिमाचल के 21 युवा शनिवार को सैन्य अफसर बन गए हैं। हिमाचल सेना को अफसर देने वाले राज्यों की सूची में आठवें नंबर पर है। आईएमए देहरादून से कुल 459 जांबाज सेना अधिकारी बने। इनमें से 382 जांबाज भारतीय सेना और 77 मित्र राष्ट्रों के कैडेट््स भी पासआउट हुए।  कदम-कदम बढ़ाए जा, खुशी के गीत गाए जा..ये जिंदगी है कौम की, तू कौम पे लुटाए जा, इस गीत पर चेटवुड बिल्डिंग के सामने ड्रिल स्क्वायर पर कदमताल करते हुए जेंटलमैन कैडेट्स अंतिम पग पार कर सेना में अफसर बन गए। इस दौरान इन कैडेट्स पर हवाई पुष्प वर्षा की गई। दक्षिण पश्चिम कमान के जनरल ऑफिसर कमांडिंग इन चीफ लेफ्टिनेंट जनरल चेरिश मैथसन ने परेड की सलामी ली। शनिवार सुबह छह बजकर 40 मिनट पर मार्कर्स कॉल के साथ परेड शुरू हुई। कंपनी सार्जेंट मेजर प्रसून शर्मा, अमन कुंडु, अमरजीत सिंह, वत्सल पांडे, अतुल  पाटिल, दीपक कुमार, पुनीत, अंकुश सिंह ने ड्रिल स्क्वायर पर अपनी-अपनी जगह ली। एडवांस कॉल के साथ ही सीना ताने देश के भावी कर्णधार अपार हिम्मत और हौसले के साथ कदम बढ़ाते परेड के लिए पहुंचे। इसके बाद परेड कमांडर ने ड्रिल स्क्वायर पर जगह ली। कैडेट््स ने शानदार मार्च पास्ट से दर्शक दीर्घा में बैठे हर शख्स को मंत्रमुग्ध कर दिया। सलामी लेने के बाद दक्षिण पश्चिम कमान के जनरल ऑफिसर कमांडिंग इन चीफ जनरल चेरिश मैथसन ने कैडेट््स को ओवरऑल बेस्ट परफार्मेंस और अन्य उत्कृष्ट सम्मान से नवाजा गया।

किस राज्य से कितने कैडेट्स

हिमाचल के 21 कैड्स के अलावा उत्तर प्रदेश से 72, बिहार से 46, हरियाणा से 40, उत्तराखंड से 33, पंजाब से 33, महाराष्ट्र से 28, राजस्थान से 22, दिल्ली से 14, मध्य प्रदेश से 11, कर्नाटक से 08, नेपाल से 07, पश्चिम बंगाल से 05, जम्मू- कश्मीर से 05, ओडिशा से 05, आंध्र प्रदेश से 04, गुजरात से 04, झारखंड से 04, तेलंगाना से 04, चंडीगढ़ से 03, केरल से 03, असम से 02, तमिलनाडु से 02, छत्तीसगढ़ से 02, मणिपुर से 02, गोवा से 01 और नागालैंड से 01 कैडेट शामिल हैं।

You might also like