11 सुरंगों से होकर हमीरपुर पहुंचेगी ट्रेन

ऊना-हमीरपुर रेल लाइन का सर्वे कंपलीट, 15 बड़े पुलों का भी होगा निर्माण

हमीरपुर  – ऊना से हमीरपुर तक जिस रेलवे लाइन को लेकर हमीरपुर संसदीय क्षेत्र में इन पांच वर्षों में हल्ला होता रहा और खासकर कांग्रेस हर मंच से इस मुद्दे को भुनाती रही, उस रेलवे ट्रैक के फाइनल लोकेशन का सर्वे कंपलीट हो चुका है। बताया जा रहा है कि 50.4 किलोमीटर लंबी ऊना-हमीरपुर रेलवे लाइन में 11 सुरंगों का निर्माण प्रस्तावित है। इनमें एक सुरंग आठ किलोमीटर लंबी होगी, जो हमीरपुर के नजदीक बनेगी। इस रेलवे लाइन में 15 बड़े पुल भी निर्मित किए जाने की बात भी सर्वे में कही जा रही है। इनमें से एक पुल 2.45 किलोमीटर लंबा होगा, जो कि इस रेलवे लाइन पर सबसे लंबा पुल बताया जा रहा है। बड़े पुलों की अधिकतम ऊंचाई 90 मीटर होगी। फाइनल सर्वे के मुताबिक ऊना से हमीरपुर तक कुल छह रेलवे स्टेशन बनाए जाने प्रस्तावित हैं। ऊना रेलवे स्टेशन को जंक्शन और हमीरपुर में रेल टर्मिनल बनाने का प्रस्ताव है। ऊना और हमीरपुर के बीच चार क्रॉसिंग स्टेशन बनेंगे। इनमें बौल, धुंदला, कोल्डावल और कूहना शामिल हैं। इस रेलवे लाइन के निर्माण पर 2850 करोड़ रुपए की लागत का अनुमान है। कंस्ट्रक्शन विंग के अधिकारियों के अनुसार फाइनल लोकेशन सर्वे के बाद रेलवे लाइन के निर्माण की अनुमानित लागत और भी बढ़ सकती है। बता दें कि हमीरपुर संसदीय क्षेत्र के सांसद अनुराग ठाकुर ने चुनावों से पूर्व कहा था कि हमीरपुर रेल लाइन के लिए कंस्ट्रक्शन विंग द्वारा जियोलॉजिकल मैपिंग और फाइनल लोकेशन सर्वे के लिए टेंडर लगा दिए गए हैं। सर्वे के आधार पर डीपीआर तैयार होगी।

You might also like